अस्पताल में आए मरीजों को थमा दी फंगस लगी कफ सिरफ, सैंपल किए जब्त

खेतड़ी (राजस्थान)। अस्पताल में आए मरीजों को फंगस लगी कफ सिरफ देने के मामले में सैंपल को अस्पताल से जब्त कर लिया गया है। मामला प्रकाश में आने पर स्वास्थ्य टीम ने खेतड़ी उप जिला अस्पताल का दौरा किया। अधिकारियों की टीम के निरीक्षण के दौरान मरीजों की दस पर्चियों पर दवा अनुपलब्ध होने की मोहर लगी मिली। इन पर्चियों को टीम जब्त कर अपने साथ ले गई।

यह है मामला

राजकीय उप जिला अस्पताल में कफ सिरप की कमी होने पर प्रबंधन ने लोकल स्तर पर कफ सिरप खरीदी थी। अस्पताल प्रबंधन की ओर से खरीदी गई कफ सिरप में फंगस लगा हुआ था। इसके बावजूद लापरवाही के चलते मरीजों को फंगस लगी कफ सिरप दे दी गई। मामला सामने आने के बाद सीएमएचओ डॉ. विनय गहलोत ने डिप्टी सीएमएचओ अरूण अग्रवाल के नेतृत्व में एक टीम का गठन कर जांच करने के निर्देश दिए।

सैंपल अपने कब्जे में लिए

गठित टीम राजकीय उप जिला अस्पताल में पंहुची। टीम ने दवा स्टोर में रखी कफ सिरप के बारे में जानकारी जुटाई। इसके बाद कफ सिरप के सैंपल को जब्त कर लिया। जब टीम ने दवा वितरण केन्द्र की जांच की तो अस्पताल में आए दस मरीजों की पर्चियों पर दवा अनुपलब्ध की मोहर लगी हुई पाई गई। इस पर उन्होंने पर्चियों को जब्त कर लिया।

डिप्टी सीएमएचओ ने बताया कि अस्पताल प्रबंधन की ओर से लोकल स्तर पर दवा खरीदी गई थी। इसमें कुछ कमियां पाई गई। इनको जब्त कर लिया है। इनके सैंपल जांच के लिए भेजे जाएंगे। मामले की रिपोर्ट बनाकर उच्च अधिकारियों को भी भेजी जाएगी।

मामले को गंभीरता से लेते हुए चिकित्सा विभाग के संयुक्त निदेशक डॉ. नरोत्तम शर्मा उप जिला अस्पताल में पंहुचे। उन्होंने अस्पताल का निरीक्षण कर बेहतर सुविधा मुहैया करवाने तथा किसी भी सूरत में बाहर की दवा नहीं लिखने के निर्देश दिए।