तस्करी कर ले जाई जा रही थी नशीली दवाओं की खेप, दो गिरफ्तार

जगदलपुर। तस्करी कर ले जाई जा रही प्रतिबंधित नशीली टेबलेट की खेप बरामद कर दो तस्करों को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस के अनुसार दोनों दवा तस्करों को कोर्ट में पेश कर रिमांड पर लिया गया है।

उप महानिरीक्षक एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जितेन्द्र सिंह मीणा के निर्देशन में बस्तर पुलिस ने यह कार्रवाई की। अताया गया कि पुलिस आपराधिक तत्वों के विरूद्ध लगातार कार्रवाई में जुटी है। इसी कड़ी में बस्तर पुलिस को अवैध नशीली दवाइयों की तस्करी का बड़ा मामला पकडऩे में सफलता हासिल हुई है।

यह है मामला

जानकारी अनुसार, थाना सिटी कोतवाली को सूचना मिली कि दो युवक मोटर साइकिल पर अवैध नशीली दवाई की तस्करी कर ले जा रहे हंै। सूचना के आधार पर थाना प्रभारी कोतवाली लीलाधर राठौर के नेतृत्व में टीम गठित कर मौके पर भेजा गया।

घेराबंदी कर दोनों को पकड़ लिया

पुलिस टीम ने आसना रोड में वाहनों की चेकिंग के दौरान मोटर साइकिल सवार दो युवकों को रोका। ये युवक पुलिस को सामने देखकर बाइक मोडक़र भागने का प्रयास करने लगे। पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए घेराबंदी कर दोनों युवकों को पकड़ लिया। पूछताछ में युवकों ने अपना नाम नाम सुरज मंडावी और आशीष जार्ज निवासी जगदलपुर बताया। पुलिस ने इनके कब्जे से एक नीले रंग के थैले की तलाशी ली। थैले में काफी मात्रा में दवाइयां मिली।

ये नशीली दवाइयां मिली

जांच करने पर 2400 नग अल्प्राजोलम टेबलेट आईपी 0.5 एमजी पाई गई। ये अवैध एवं प्रतिबंधित नशीली दवा की श्रेणी में शामिल हंै। आरोपी युवकों को गिरफ्तार कर इनके खिलाफ एन.डी.पी.एस. एक्ट की परिधि में मामला दर्ज कर लिया गया। आरोपियों के कब्जे से 2400 नग नशीली टेबलेट, दो मोबाइल, एक काले रंग का स्प्लेण्डर प्लस मोटर साइकिल व 400 रूपये की राशि बरामद कर ली है। बरामद दवाओं की अनुमानित कीमत 5760 रूपये बताई गई है। पुलिस के अनुसार दोनों दवा तस्करों कोर्ट में पेश कर रिमांड पर लिया गया है।