दवा कंपनी फ्रेंको इंडियन फॉर्मा के खिलाफ जताया विरोध्

धनबाद (झारखंड)। दवा कंपनी के खिलाफ बीजेएसआरयू ने विरोध जताया है। मुंबई की दवा कंपनी मेसर्स फ्रेंको इंडियन फॉर्मा पर मजदूर विरोधी नीति अपनाने का आरोप लगाया गया है।

बिहार-झारखंड सेल्स रिप्रेजेंटेटिव यूनियन (बीजेएसआरयू) की धनबाद इकाई के सदस्यों ने विरोध-प्रदर्शन किया। वक्ताओं ने कहा कि फार्मा कंपनी ने ट्रेड यूनियन के अधिकारों पर हमला किया है। प्रबंधन ने वेतन और व्यय प्रतिपूर्ति की मनमानी कटौती की है। यहां तक कि कंपनी ने कार्यरत सेल्स रिप्रेजेंटेटिव के बीमार पडऩे पर छुट्टी नहीं देने, आकस्मिक अवकाश रद्द करने, कॉन्फ्रेंस और ट्रेनिंग प्रोग्राम के कार्यक्रमों में अपमान और उत्पीडऩ करने जैसे हथकंडे अपनाए हैं।

आरोप लगाया गया कि कंपनी ने यातना देने की नीयत से कार्यरत सेल्स रिप्रेजेंटेटिव का दूर-दराज क्षेत्र में तबादला किया। यूनियन ने जब प्रबंधन को विचार करने संबंधित मांग-पत्र सौंपा तो फ्रेंको इंडियन के प्रबंधन ने आधारहीन आरोप के साथ झूठी पुलिस शिकायत दर्ज करा दी। इसका यूनियन विरोध करती है।

इस मौके पर संयुक्त महासचिव अरिंदम विश्वास, सुजॉय गुप्ता, संदीप आईच, प्रभात कुमार सिंह, राजीव सिंह, चंद्रमौली चटर्जी, प्रबीर घोष, सुमन दास व स्वरूप दास मौजूद रहे।