दवा दुकानदार भी कर सकेंगे प्राथमिक उपचार, बस करना होगा ये काम

रांची (झारखंड)। अब दवा दुकानदार भी मरीजोंं का प्राथमिक उपचार कर सकेंगे। इसकेलिए उन्हें फस्र्ट एड स्पेशलिस्ट और पब्लिक हेल्थ का कोर्स करना होगा। इस कोर्स में नामांकन की प्रक्रिया 15 मई तक जारी रहेगी। बता दें कि ये दोनों कोर्स मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया द्वारा संचालित है।

फस्र्ट एड स्पेशलिस्ट और पब्लिक हेल्थ का कोर्स एक साल का है। कोर्स करने के बाद क्लीनिक खोलने के लिए भी अधिकृत हो सकते हैं या फार्मासिस्ट का भी एक विकल्प हो सकता है।

बाजार की मांग के अनुसार कर सकते हैं कोर्स

झारखंड स्टेट ओपन यूनिवर्सिटी के अंतर्गत आने वाले एलबीएसएम कॉलेज में कई सर्टिफिकेट कोर्स बाजार की मांग के अनुरूप भी शुरू किए गए हैं। इन कोर्सों का डिजाइन भी बाजार की मांग के अनुरूप किया गया है। बताया गया है ये कोर्स पूरा करने के बाद इसके सहारे जीविकोपार्जन किया जा सकता है। सभी कोर्स नए सत्र से शुरू किए जाएंगे।

अन्य कोर्स भी संचालित

कई अन्य कोर्सों का संचालन भी शुरू किया गया है। बिजनेस पाठ्यक्रम के तहत मैनेजमेंट, एमबीए, पीजीडीएम, फाइनांशियल मैनेजमेंट शामिल हैं। वहीं, कंप्यूटर एप्लीकेशन, रिटेल मार्केटिंग प्रोजेक्ट, मैनेजमेंट मार्केटिंग, मैनेजमेंट नेचुरोपैथी, बैंकिंग एंड इंश्योरेंस के कोर्स भी चलाए जा रहे हैं। फस्र्ट एड स्पेशलिस्ट और पब्लिक हेल्थ के कोर्स में भी नामांकन प्रक्रिया की जा रही है।