दिल्ली के अस्पताल कैंपस में मेल नर्स का मर्डर, टॉयलेट में मिली डेड बॉडी

अस्पताल कैंपस

नई दिल्ली। अस्पताल कैंपस में नर्सिग स्टाफ का मर्डर का मामला प्रकाश में आया है। रामजी लाल कुमावत (37) जग प्रवेश चंद्र अस्पताल में टॉयलेट के आगे लहूलुहान अवस्था मे मिला। गले पर चाकू से गहरा कट लगा था। पुलिस को बॉडी के पास एक चाकू मिला है। न्यू उस्मानपुर थाना पुलिस ने शुरुआती जांच के बाद मर्डर का केस दर्ज कर लिया है। हत्या में किसी जानकार का हाथ होने की आशंका मानी जा रही है। पुलिस मामले की जांच मेें जुटी है।

मेल नर्स था रामजी लाल

जानकारी अनुसार रामजी लाल कुमावत परिवार के साथ जग प्रवेश चंद्र अस्पताल के स्टाफ क्वॉर्टर में रहता था। इनका फ्लैट दूसरी मंजिल पर था। डीसीपी (नॉर्थ ईस्ट) डॉ. जॉय टिर्की ने बताया कि रामजी लाल अस्पताल में मेल नर्स के तौर पर कार्यरत था। मूलरूप से राजस्थान के सीकर जिले के रामजी लाज की 12 साल पहले सुधा के साथ शादी हुई थी। इनके 11 और 8 साल के दो बच्चे हैं। बताया गया कि पत्नी सुधा सीलमपुर के गौतमपुरी स्कूल में गेस्ट टीचर हैं।

टॉयलेट में मिली डेड बॉडी

अस्पताल कैंपस

पत्नी सुधा के अनुसार उनका परिवार राजस्थान में एक शादी में शामिल होने गया था। वहां से सोमवार देर रात करीब साढ़े 12 बजे दिल्ली लौट आए थे। दोनों बच्चों को कमरे में सुला दिया था। पति-पत्नी भी सो चुके थे। मंगलवार सुबह वह सोकर उठी तो टॉयलेट के सामने पति खून से लथपथ पड़े थे। घर का दरवाजा भी अंदर से बंद था। शव के पास एक खून से सना चाकू मिला।

सीसीटीवी कैमरों को भी खंगाला जा रहा

सुधा का कहना है कि ऐसा लग रहा था कि पति ने खुद का गला रेत लिया हो। पुलिस ने शुरुआती जांच के बाद हत्या का मामला दर्ज किया है। पुलिस के अनुसार स्यूसाइड का मामला नहीं लग रहा। वारदात के समय पत्नी और दोनों बच्चे घर में थे। हत्याकांड में किसी बेहद नजदीकी का हाथ होने की आशंका है। इस मामले का जल्द पर्दाफाश कर लिया जाएगा। फिलहाल पुलिस मृतक की पत्नी और परिजनों से पूछताछ कर रही है। वहीं, आसपास के सीसीटीवी कैमरों को भी खंगाला जा रहा है, ताकि कोई सबूत हाथ लग सके।