नकली कॉस्मेटिक उत्पाद बेच रहे सात दुकानों पर छापेमारी

नकली कॉस्मेटिक उत्पाद बेच रहे सात दुकानों पर छापेमारी

उत्तर प्रदेश के बदायूं में ब्रांडेड कंपनी के नाम से नकली कॉस्मेटिक उत्पाद बेच रहे सात दुकानदारों पर छापेमारी की गई। पुलिस की टीम ने हिंदुस्तान यूनिलिवर कंपनी की लीगल एटार्नी, फील्ड इन्वेस्टीगेटर और असिस्टेंट के साथ मिलकर छापेमारी की। छापेमारी के दौरान मौके से 21 बोरे नकली कॉस्मेटिक उत्पाद जब्त किए गए। आरोपी दुकानदारों के खिलाफ धोखाधड़ी और कॉपीराइट एक्ट के अंतर्गत शिकायत दर्ज कर ली गई है।

हिंदुस्तान यूनिलिवर कंपनी की लीगल एटार्नीं बेंग्लुरू निवासी नयनतारा डेमी का कहना है कि वह अपने असिस्टेंट जोसेफ स्वामी और फील्ड इन्वेस्टीगेटर फरहा दीवा के साथ बदायूं में आयी थीं। बाजार में छानबीन के दौरान सामने आया कि खंडसारी मोहल्ले में सोहेल जनरल स्टोर, बाबू जनरल स्टोर, नदीम जनरल स्टोर, फराज कॉस्मेटिक, चूना मंडी में सरकार इंटरप्राइजेज, रजा ज्वेलरी और आनंदी कॉस्मेटिक पर लेक्मे कंपनी के नाम से कॉस्मेटिक के नकली उत्पाद बेचे जा रहे हैं।इन नकली कॉस्मेटिक उत्पादों पर कंपनी का रेपर और नाम का उपयोग करने से कंपनी की बदनामी हो रही है।

ये भी पढ़ें- इंसानों में पहली बार मिला स्वाइन फ्लू का वायरस

पुलिस ने सातों दुकानों पर छापेमारी की जहां से भारी मात्रा में नकली क्रीम, पाउडर, काजल आदि कॉस्मेटिक उत्पाद शामिल हैं। पुलिस ने सोहेल जनरल स्टोर के मालिक सोहेल, बाबू जनरल स्टोर के मालिक समीर, नदीम जनरल स्टोर के मालिक नदीम, फराज कॉस्मेटिक के मालिक समीर कुरैशी, सरकार इंटरप्राइजेज के मालिक मोहम्मद आमिर, रजा ज्वेलरी के मालिक मोहम्मद इरफान और आनंदी कॉस्मेटिक के मालिक सुधीर रस्तोगी के खिलाफ शिकायत दर्ज कर ली है।