नशीले कैप्सूल बेचने आए दो तस्करों को मौके पर दबोचा

महासमुंद (छत्तीसगढ़)। नशीले कैप्सूल बेचने की फिराक में बैठे दो तस्करों को पुलिस टीम ने घेरकर मौके से दबोच लिया। दोनों के खिलाफ नारकोटिक एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया है।

यह है मामला

शहर के विभिन्न क्षेत्र में लगातार प्रतिबंधित नशीली ड्रग्स कैप्सूल व इंजेक्शन का अवैध व्यापार जारी है। पुलिस को इसकी सूचना लगातार मिल रही है, जिस पर पुलिस कार्रवाई कर रही है। पुलिस को सूचना मिली थी कि कफ सीरफ व नशीले कैप्सूल, इंजेक्शन आदि दवाइयां अन्य राज्यों से लाकर भारी मात्रा में महासमुंद और आसपास के जिलों में बेची जा रही है।

इस सूचना के आधार पर कोतवाली पुलिस टीम ने स्टेशन रोड गुरूद्वारा के सामने दबिश दी। यहां भारी मात्रा में नशीली टैबलेट बेचने के लिए रखी गई थी। पुलिस की टीम ने घेराबंदी कर दो युवकों को पकड़ लिया। पूछताछ में आरोपी प्रवीण साव उर्फ बोडे 31 वर्ष निवासी महासमुंद व मनोज डांडेकर 23 वर्ष बंगलापारा, तुमगांव पाए गए।

40 पैकेट नशीले कैप्सूल जब्त किए

पुलिस टीम ने दोनों की तलाशी ली तो सफेद रंग के थैले में भारी मात्रा में नशीली टैबलेट मिली। पुलिस ने जब इनके संबंध में दस्तावेज मांगे तो आरोपितों के पास कोई वैध दस्तावेज नहीं मिला। आरोपितों के पास 40 पैकेट कैप्सूल जब्त किए। इसके 39 पैकेट के प्रत्येक पैकेट में 18-18 स्ट्रीप (पत्ता) प्रत्येक स्ट्रीप में 08-08 नग कैप्सूल एवं एक पैकेट मे 15 स्ट्रीप मिली।

प्रत्येक स्ट्रीप में 08-08 नग कैप्सूल कुल 717 स्ट्रीप व 5736 नग कैप्सूल जब्त किया। स्ट्रीप में 8 नग कैप्सूल की कीमत 80.80 रुपये कुल कीमत 57933.60 रुपये जब्त किया गया। आरोपियों के खिलाफ कोतवाली में नारकोटिक एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया है। फिलहाल पुलिस कानूनी कार्रवाई करने में जुटी है।