फार्मा कंपनी की करोड़ों की जमीन धोखाधड़ी से बेची, सात के खिलाफ एफआईआर

मेरठ। मैनकाइंड फार्मा कंपनी की करोड़ों रुपए कीमत की जमीन को धोखाधड़ी से बेचने का मामला प्रकाश में आया है। परतापुर थाने में गलत तरीके से जमीन बेचने पर सात लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। वहीं, 10 अन्य के खिलाफ धोखाधड़ी, जान से मारने की धमकी देने समेत कई धाराओं में केस दर्ज किया गया है।

ये है मामला

मैनकाइंड फार्मा कंपनी की नई दिल्ली परतापुर थाना क्षेत्र में दिल्ली हाईवे पर 1.5240 हेक्टेयर जमीन है। कंपनी ने 0.5926 हेक्टेयर जमीन आदित्य प्रकांत पुत्र राकेश कुमार, निवासी न्यू ऋषिपुरम नई बस्ती रोहटा रोड थाना कंकरखेड़ा को 21 फरवरी को बेची थी। उसके पास स्थित जमीन में से 0.3720 हेक्टेयर जमीन आदित्य प्रकांत को 28 अप्रैल को बेची गई थी।

आरोपी ने खुद को मालिक दिखा प्लाटिंग की

आरोप है कि आदित्य ने बिना दाखिल खारिज कराए खुद को मालिक दिखाकर जमीन में प्लाटिंग कर दी। आदित्य प्रकाश ने अपने भाई रमन चौधरी, पिता राकेश कुमार, ममेरे भाई सौरभ व आशुतोष, सुपरवाइजर नितिन कुमार के साथ मिलकर आपराधिक षड्यंत्र रख।

इसके तहत उसने एक अवैध लेआउट रमन एन्क्लेव के नाम से बनवा लिया। इस लेआउट में कंपनी के खसरा नंबर 1034 की भूमि को भी शामिल कर लिया। लेआउट में प्लाट नंबर-ए-6, खसरा संख्या 1034 की भूमि में है। लेकिन इसमें प्लाट नंबर ए-6 के खरीद पत्र 23 फरवरी के माध्यम से खसरा संख्या-1028 दिखाकर बेच दिया।

फार्मा कंपनी

पुलिस में कार्रवाई जारी

शिकायत में बताया गया है कि इस मामले में दीपक कुमार, आदित्य प्रकांत, रमन चौधरी, सौरभ, आशुतोष, सुपरवाइजर नितिन कुमार, राकेश कुमार एवं 8-10 अन्य लोग हथियारों समेत जमीन पर पहुंचे। उन्होंने कंपनी के गार्ड को कमरे में बंद कर निर्माण शुरू करा दिया। कंपनी की सीओ शुचिता सिंह ने बताया कि रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है। फिलहाल मामले में कार्रवाई जारी है।