फेंसीडील कफ सीरप की सप्लाई नहीं कर सकेंगी सहारनपुर की 5 मेडिकल एजेंसी

cough syrup
cough syrup

सहारनपुर (उप्र)। फेंसीडील कफ सीरप की सप्लाई करने पर 5 मेडिकल एजेंसी पर रोक लगा दी गई है। ये पांचों एजेंसी सहारनपुर की हैं। बता दें कि फेंसिडिल कफ सीरप खांसी और एलर्जी के इलाज के लिए इस्तेमाल किया जाता है। लोग इसका इस्तेमाल नशा करने के लिए भी करते हैं।

एजेंसी ने दूसरे जिलों में की सप्लाई

बता दें कि हाल ही में जिले से बड़ी मात्रा में फेंसिडिल सिरप की सप्लाई का मामला सामने आया था है। शासन स्तर से इस मामले की जांच करवाई गई। खाद्य सुरक्षा और औषधि प्रशासन विभाग की जांच रिपोर्ट में बताया गया कि जिले की पांच मेडिकल एजेंसी ने फेंसीडील कफ सीरप की सप्लाई अपने अधिकार क्षेत्र से बाहर जाकर की है। इन एजेंसी ने अपने जिले के अलावा अन्य जनपदों में भी सप्लाई भेजी थी।

सहारनपुर औषधि निरीक्षक ने की जांच

गौरतलब है कि सूबे के कुशीनगर, गाजियाबाद सहित कई जिलों में फेंसिडिल कफ सिरप बड़ी मात्रा में बरामद की गई है। शासन ने हर जिले में इस सिरप की जांच करने के निर्देश औषधि निरीक्षकों को दिए। आदेश के तहत सहारनपुर औषधि निरीक्षक ने शहर से लेकर देहात तक के मेडिकल स्टोर और एजेंसी पर फेंसिडिल कफ सिरप की जांच की।

डिस्ट्रीब्यूटर के तौर पर कफ सिरप लिया

सहारनपुर शहर की किशनपुरा दवा मार्केट में लक्ष्मी मेडिकल एजेंसी, आदि शक्ति मेडिकल एजेंसी, झंडू लाल मदनलाल मेडिकल एजेंसी, पुल जोगियान स्थित बाला जी मेडिकल एजेंसी और कृष्टि संजीवनी मेडिकल एजेंसी ने फेंसिडिल कफ सिरप की सप्लाई लखनऊ और गाजियाबाद में की थी। जांच में पता चला कि कंपनी से सीधे फेंसिडिल कफ सिरप सीएफए में आया। इसके बाद इन पांचों मेडिकल एजेंसी ने डिस्ट्रीब्यूटर के तौर पर कफ सिरप को लिया था।

सिरप व दवा की बिक्री पर रोक लगाई

एक सप्ताह पहले सहायक आयुक्त औषधि की तरफ से इन एजेंसी संचालकों को नोटिस दिए गए और चार दिन में स्पष्टीकरण मांगा गया, लेकिन किसी भी तरफ से संतोषजनक जवाब नहीं आया। ऐसे में इन मेडिकल एजेंसी पर कोडीनयुक्त सिरप व दवा की बिक्री पर रोक लगा दी है।

मुजफ्फरनगर व शामली में जांच जारी

सहायक आयुक्त औषधि दीपक शर्मा ने बताया कि सहारनपुर में पांच मेडिकल एजेंसी ने दूसरे जिलों में फेंसिडिल कफ सिरप की सप्लाई की थी। पांचों को नोटिस देकर स्पष्टीकरण मांगा, लेकिन कोई संतोषजनक जवाब नहीं मिला है। इसलिए इन एजेंसी पर कोडीनयुक्त सिरप व दवा की बिक्री पर रोक लगा दी है। फिलहाल, मुजफ्फरनगर व शामली में भी जांच जारी है। शामली में अभी तीन मेडिकल एजेंसी के नाम सामने आए हैं।