मेडिकल रिप्रेजेंटेटिव्स की रिम्स में नो एंट्री, दिखाई देने पर उनकी कंपनियों की दवा होगी बैन

rims

रांची। मेडिकल रिप्रेजेंटेटिव्स (दवा प्रतिनिधि) को राज्य के सबसे बड़े अस्पताल रिम्स में घूमते दिखाई देने पर प्रतिबंध लगाया गया है। गौरतलब है कि रिम्स के डायरेक्टर मोर्चा संभालते ही एक्शन मोड में दिखाई देने लगे हंै। एक के बाद एक नए आदेश ने खलबली मचा दी है।

पहले एमआर के विजिट के लिए उन्होंने समय तय किया। अब उन्होंने एक और आदेश जारी किया है। इसमें कहा गया है कि शनिवार के अलावा एमआर अन्य दिनों में हॉस्पिटल में घूमते हुए नजर आए तो उनकी कंपनी की दवाओं को बैन कर दिया जाएगा। डायरेक्टर ने इस आदेश का सख्ती से पालन कराने को कहा है।

केवल शनिवार को एक घंटा आ सकेंगे एमआर

आदेश में कहा गया है कि ओपीडी के समय विजिट करने से मरीजों को परेशानी होती है। दवा प्रतिनिधि डॉक्टरों से तो मिल लेते हैं, लेकिन इसका खामियाजा मरीज भुगत रहे हैं। चूंकि ओपीडी में राज्यभर से मरीज इलाज कराने पहुंचते हैं। वहीं देर होने पर उन्हें रांची में ही रूकना पड़ता है।

ऐसे में उनकी परेशानी बढ़ जाती है। अतिरिक्त पैसा खर्च होता है। इस कारण शनिवार को एक घंटे का समय डॉक्टरों से मिलने के लिए निर्धारित कर दिया जाएगा। दिए गए समय पर ही दवा कंपनियों के मेडिकल रिप्रेजेंटेटिव (एमआर) डॉक्टरों को विजिट करेंगे। अन्य समय पर हॉस्पिटल कैंपस में घूमने पर एमआर की एंट्री पूरी तरह से बैन रहेगी।