HUL में सौंदर्य और पर्सनल केयर कारोबार अलग होंगे

नई दिल्ली। हिंदुस्तान यूनिलीवर (HUL) अपने सौंदर्य और पर्सनल केयर कारोबार को आगमी वित्त वर्ष यानि 1 अप्रैल 2024 से अलग-अलग करने जा रही है। सौंदर्य कारोबार इसके सौंदर्य व कल्याण और पर्सनल केयर कारोबारों में तब्दील होगा तथा दोनों प्रभागों के अलग-अलग कार्यकारी निदेशक होंगे। उपभोक्ता वस्तुओं का निर्माण कने वाली कंपनी की ओर से बताया गया है कि अब वह अपने डिजिटल कार्यक्रम पर ध्यान केंद्रित करेगी।

जानकारी मिली है कि सौंदर्य और कल्याण कारोबार के कार्यकारी निदेशक के रूप में हरमन ढिल्लों कंपनी प्रबंधन समिति में शामिल होंगे और पर्सनल केयर कारोबार के कार्यकारी निदेशक कार्तिक चंद्रशेखर काम देखेंगेे। इनके अतिरिक्त, डव साबुन की विनिर्माता ने 1 जनवरी से मुख्य डिजिटल अधिकारी की भूमिका संभालने के लिए अरुण नीलकांतन को भी नियुक्त किया है। वह भी कंपनी की प्रबंधन समिति में शामिल होंगे।

दरअसल, देश में डिजिटल पारिस्थितिकी तंत्र का लाभ उठाकर विकास के अवसर हासिल करने के लिए उन्हें लाया जा रहा है। फिलहाल वह उपाध्यक्ष (डिजिटल परिवर्तन और विकास) हैं। वह साल 2006 में एचयूएल में शामिल हुए थे और वह ग्राहक विकास और विपणन क्षेत्र की विभिन्न भूमिकाओं में काम कर चुके हैं।

बता दें कि सौंदर्य एवं कल्याण और पर्सनल केयर कारोबार के कार्यकारी निदेशक मधुसूदन रोआ ने कंपनी से सेवानिवृत्त होने का फैसला किया है। एचयूएल के मुख्य कार्याधिकारी और प्रबंध निदेशक रोहित जावा का कहना है कि एचयूएल का दमदार प्रदर्शन का रिकॉर्ड है। सौंदर्य और पर्सनल केयर हमारे लिए मूल्य सृजन का स्रोत बना हुआ है। चूंकि हम विकास और परिवर्तन के अपने अगले चरण की ओर बढ़ रहे हैं, इसलिए हम अपने उपभोक्ताओं को और भी बेहतर सेवा देने तथा भविष्य के लिए उपयुक्त कारोबार का निर्माण करने के लिए अपने पैमाने और अनुशासन को नवाचार और स्फूर्ति के साथ जोड़ देंगे।