नशीली दवा मंगाने वाली एजेंसी का लाइसेंस कैंसिल

बिलासपुर (छग)। व्यापार विहार स्थित एक दुकान से 1490 बॉटल कोडिन जब्त करने के मामले में ड्रग विभाग ने तेलीपारा स्थित प्रतिभा मेडिकल एजेंसी का लाइसेंस कैंसिल कर दिया है। असिस्टेंट ड्रग कंट्रोलर ने यह कार्रवाई ड्रग इंस्पेक्टर की रिपोर्ट के आधार पर की है। इस रिपोर्ट में यह साबित हो चुका है कि रायपुर स्थित एक फर्म से कोडिन का ऑर्डर तेलीपारा स्थित इसी एजेंसी ने किया था। इसके चलते ही यह कार्रवाई हुई है। पहले ड्रग विभाग को व्यापार विहार में एक दुकान से 1490 बॉटल कोडिन जब्त करने के मामले में कुछ भी पता नहीं चला। ड्रग विभाग का कहना था कि रायपुर स्थित तिरुपति फर्म से इसकी पूछताछ होगी। इसके बाद मामला खुलेगा। ड्रग इंस्पेक्टर सोनम जैन ने इसकी जांच शुरू की। सामने आया है कि तिरुपति से बिलासुपर स्थित इस मेडिकल एजेंसी के नाम पर कोडिन का ऑर्डर किया गया था। यह बॉटल ट्रांसपोर्टिंग के दौरान पकड़ाई है। इसमें रायपुर के तिरुपति फार्मा द्वारा भेजा जाना लिखा गया है। पैक कर्टन के ऊपर प्रतिभा मेडिकल एजेंसी तेलीपारा का नाम दर्ज था। बिलासपुर में भी चौराहों पर बिकने वाली ऐसी दवाओं को बंद करवा दिया गया है। ये काम पुलिस की मदद से हुआ है। फिर भी किस मेडिकल एजेंसी ने ऐसा कराया है, यह विभाग के लिए बड़ा सवाल बनकर सामने आया है। अधिकारी इसी का जवाब ढूंढऩे में लगे रहे।