दवाइयां बनाने की अवैध फैक्ट्री पकड़ी 

आगरा। औषधि विभाग की टीम ने एक फ्लैट में रेड कर कफ सीरप, एंटीबायोटिक आदि इवाइयां बनाने की फैक्ट्री पकड़ी है। टीम ने कार्रवाई के दौरान दो लाख की दवाएं, सीरप व दवाओं के कैच कवर जब्त किए हैं। जानकारी अनुसार डीएम एनजी रवि कुमार के आदेश पर औषधि विभाग की टीम ने बांके बिहारी धाम, सिकंदरा में छापा मारा। औषधि निरीक्षक ब्रजेश यादव ने बताया कि फ्लैट नंबर 305 में छापे के दौरान बड़ी मात्रा में दवाओं पर लगाने वाले प्रिंटेड कैच कवर मिले हैं। इसमें एंटीबायोटिक से लेकर कफ सीरप के कैच कवर हैं। औषधि विभाग की टीम को फ्लैट के एक कमरे में कफ सीरप पैक करने वाली मशीन भी मिली। यहां मौके पर कफ सीरप तैयार करने के बाद लेबल लगाए जा रहे थे। बताया गया है कि यह फर्जी दवा कंपनी हरीबाबू द्वारा चलाई जा रही थी। छापे के दौरान फ्लैट में हरीबाबू मौजूद था। वह परिवार के साथ यहां रहता है और घर पर ही दवा बना रहा था। दवाओं पर एसडीजी ड्रग फार्मास्यूटिकल लिमिटेड, प्लाट नंबर 10 भगवती कॉम्प्लेस आगरा और निर्माता कंपनी का नाम पोलो फार्मास्यूटिकल बद्दी लिखा हुआ है। औषधि विभाग की टीम ने यहां से करीब दो लाख रुपए कीमत की दवाएं जब्त कर ली हैं।