कैमिस्ट शॉप की आड़ में बेच रहे नशीली दवा, पिता-पुत्र गिरफ्तार  

हनुमानगढ़। मेडिकेटेड नशे के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान में पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी है। पुलिस ने 57 हजार से अधिक नशीले कैप्सूल तथा 14 हजार से अधिक गोलियां जब्त कर नशीली दवा तस्करी के आरोप में पिता-पुत्र सहित चार लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपियों से नशीली दवा ले जाते पकड़ी गई कार भी जब्त कर ली है। आरोपित पिता-पुत्र गांव पक्का सारणा में मेडिकल स्टोर चलाते हैं।
जांच में पता चला कि बरामद की गई नशीली दवा निजी ट्रेवल्स कंपनी की बसों के जरिए हनुमानगढ़ पहुंचाई गई थी। टाउन पुलिस के हत्थे चढ़े दो आरोपी खुद दिल्ली से नशीली दवा की खेप लेकर यहां आए थे। पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली कि निजी ट्रेवल्स कंपनी की बस में नशीली दवाओं की खेप मंगवाई गई है। उसे टांटिया ट्रेवल्स कंपनी के कार्यालय के बाहर उतारा गया है। इस पर पुलिस टीम ट्रेवल्स कंपनी के कार्यालय पहुंची। वहां कार में सवार होकर आया एक युवक नशीली दवा के दो कार्टन अपने वाहन में रखकर ले जाने लगा। पुलिस ने कार रुकवा कर जांच की तो दोनों कार्टन में एनडीपीएस घटक के पारवन स्पास के 38 हजार 400 कैप्सूल भरे हुए थे। पुलिस ने नशीले कैप्सूल व कार जब्त कर ली। आरोपी की पहचान धनवीर सिंह (32) पुत्र गुरमीत सिंह निवासी पक्का सारणा के रूप में हुई। धनवीर सिंह ने पुलिस को बताया कि वह अपने पिता गुरमीत सिंह (60) के साथ गांव में मेडिकल स्टोर चलाता है। वे दोनों ही ग्राहकों को नशीली दवाएं उपलब्ध कराते हैं। इस खुलासे के बाद सदर थाना प्रभारी जगदीश प्रसाद पांडर के नेतृत्व में पुलिस दल ने गांव पक्का सारणा में छापा मारा। वहां आरोपित धनवीर के घर से 14 हजार 500 नशीली टेबलेट जब्त की गई। पुलिस ने मौके से धनवीर सिंह के पिता गुरमीत सिंह पुत्र धन्नासिंह रामगढिय़ा को गिरफ्तार कर लिया।
उधर, टाउन पुलिस ने दो युवकों को 19 हजार 200 नशीले कैप्सूल सहित गिरफ्तार किया। पुलिस के अनुसार मुखबिर से सूचना मिली कि लोग दिल्ली से निजी ट्रेवल्स कंपनी की बस में भारी मात्रा में नशीली दवा लेकर हनुमानगढ़ आ रहे हैं। इस पर थाना प्रभारी विष्णुदत्त बिश्नोई ने टीम के साथ टिब्बी रोड स्थित एचएमएच नहर पर नाकाबंदी की। इसी दौरान वहां से थैला लेकर जा रहे दो युवकों को रुकवा कर तलाशी ली। थैले से एनडीपीएस घटक के प्रतिबंधित पारवन स्पास के 19 हजार 200 कैप्सूल बरामद हुए। पुलिस ने नशीले कैप्सूल जब्त कर दोनों युवकों को गिरफ्तार कर लिया। उनकी पहचान मुकेश कुमार उर्फ मकड़ी (20) पुत्र गुलशन अरोड़ा निवासी वार्ड 24, अम्बेडकर कॉलोनी व दीपक कुमार (23) पुत्र रामकुमार अरोड़ा निवासी भभूता सिद्ध कॉलोनी, टाउन के रूप में हुई। आरोपितों ने पुलिस पूछताछ में स्वीकारा कि वे दिल्ली से नशीले कैप्सूल लेकर आए थे। इसकी हनुमानगढ़ में सप्लाई देते। वे लम्बे समय से इस कारोबार से जुड़े हुए थे। आरोपित मुकेश उर्फ मकड़ी के पिता टाउन में किरयाना स्टोर जबकि दीपक के पिता बर्तनों की दुकान चलाते हैं। टाउन पुलिस ने आरोपितों के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है।