मासूम की मौत पर परिजनों ने किया हंगामा

खुखुंदू। चार माह के मासूम की मौत से गुस्साए परिजनों ने क्लीनिक पर हंगामा कर डाला। परिजनों ने इस संबंध में क्लीनिक के स्टाफ पर इलाज में लापरवाही का आरोप लगाते हुए शिकायत भी दर्ज कराई है। जानकारी अनुसार थानाक्षेत्र के मझवलिया गांव निवासी रामदुलारे कुशवाहा की चौराहे पर साइकिल की दुकान है। कुछ दिन पूर्व उसके चार माह के बच्चे शुभम को निमोनिया की शिकायत हुई। बच्चे को खुखुंदू के एक निजी क्लीनिक पर ले जाया गया। यहां डॉक्टर ने दवा देकर वापस भेज दिया। बच्चे की हालत बिगडऩे पर वे पुन: क्लीनिक पर पहुंचे। डॉक्टर ने बच्चे को एक इंजेक्शन लगाकर घर भेज दिया। रामदुलारे का आरोप है कि बच्चे को लेकर पत्नी अभी कुछ दूर ही गई थी कि उसके नाक से खून आने लगा और सांस रुक गई। आनन-फानन में बच्चे को लेकर फिर क्लीनिक पर पहुंचे तो डॉक्टर ने बच्चे को मृत घोषित कर दिया। बच्चे की मां अनुराधा के चीखने-चिल्लाने पर वहां के स्टाफ ने सहानुभूति की बजाए दवा और पर्ची छीन ली। साथ ही पत्नी और भाई को धक्का देकर क्लीनिक से भगा दिया। मामले का पता चलने पर सैकड़ों की संख्या में गांव की महिलाएं और पुरुष शव लेकर थाने पहुंच गए। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। रामदुलारे ने डॉक्टर और स्टाफ पर मारपीट, लापरवाही के चलते बच्चे की मौत का आरोप लगाते हुए थाने में शिकायत दी है। प्रभारी एसओ मनोज यादव ने कहा कि शिकायत के आधार पर आवश्यक कार्रवाई की जाएगी।