डॉक्टरों की मनमानी के कारण सस्ती दवा बना एक सपना

ललितपुर। डॉक्टरों की मनमानी की वजह से अभी भी आम जनता तक सस्ती दवाओं का लाभ नहीं पहुंच पा रहा है। जिसको लेकर कई बार चिकित्सकों पर कार्रवाई की गई लेकिन होता कुछ दिन नहीं रहा है और मरीजों के लिए आज सस्ती दवा एक सपना भर बनकर रह गया है। जिला अस्पताल में मरीजों सस्ती दवाएं मुहैया कराने के लिए जन औषधि केंद्र खोला गया है। लेकिन चिकित्सकों की मनमानी के चलते पांच माह बाद भी मरीजों को सस्ती दवाओं को लाभ नहीं मिल पा रहा है। इसका कारण चिकित्सक मरीजों को बाहर की दवाएं लिख रहे हैं।

मरीजों को बाहर से मंगाई जाने वाली दवाओं में कम से कम दर पर उपलब्ध कराने के लिए केंद्र सरकार द्वारा जिला अस्पताल में जन औषधि केंद्र खोला गया है। इस केंद्र पर जेनेरिक दवाइयां मिलती हैं। लेकिन जिला अस्पताल में चिकित्सकों की मनमानी के चलते पांच माह के बाद भी मरीजों को जेनेरिक दवाओं का लाभ नहीं मिल पा रहा है। इसके चलते मरीज बाहर की दवाएं लेने के लिए मजबूर हैं।

वहीं जिला अस्पताल ललितपुर के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ एस के वासवानी ने कहा कि जिला अस्पताल में स्थापित जन औषधि केंद्र पर पूरी दवाईयां उपलब्ध नहीं हैं। जिससे मरीजों को बाहर की दवाईयां खरीदना पड़ रहीं है। शीघ्र ही केंद्र संचालक को दवाओं की सूची देकर दवाईयां उपलब्ध कराई जाएंगी।