फार्मासिस्टों ने दी मरणव्रत करने की चेतावनी 

काहनूवान, पटियाला (पंजाब)। स्वास्थ्य विभाग की डिस्पेंसरियों में ठेके पर कार्यरत फार्मासिस्टों ने सरकार के आश्वासनों से तंग आकर 10 जून को पटियाला में रैली कर मरणव्रत करने की चेतावनी दी है। रूरल हेल्थ फार्मासिस्ट एसोसिएशन पंजाब के प्रधान बिक्रमजीत सिठयाली, प्रदेश कमेटी सदस्य गुरजीत भिडर और बलजीत सिंह मीयां कोट ने कहा कि समूह फार्मासिस्ट पिछले लगभग 13 वर्षों से नाममात्र वेतन पर ठेके पर काम कर रहे हैं। सरकार की ओर से उन्हें ना योग्य वेतन और न ही उनकी सेवाओं को नियमित किया जा रहा है। उन्होंने कांग्रेस सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि उन्हें कैप्टन सरकार ने ही साल 2006 के दौरान ठेके पर भर्ती किया था और सरकार बनने के उपरांत पहल के आधार पर पक्का किए जाने का वादा किया था। अब दो साल से अधिक समय बीत जाने पर भी फार्मासिस्ट की सुध नहीं ली जा रही है। इसके रोष स्वरूप फार्मासिस्टों की ओर से से 10 जून को पटियाला में अनिश्चितकालीन संघर्ष छेडऩे का निर्णय लिया है। अगर 10 जून तक मांगों की सुनवाई नहीं हुई तो संगठन की ओर से कड़ा संघर्ष किया जाएगा।
Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here