नकली दवाएं बेच रहे बिना डिग्री वाले डॉक्टर

नई गढ़ी। बिना डिग्री वाले स्वयंभू डाक्टर नकली दवाइयां बेचने के कारोबार में शामिल हैं। ग्रामीण क्षेत्र में ये आज लोगों को अमान्य दवाइयां देकर उनके स्वास्थ्य से खिलवाड़ कर रहे हैं। नई गढ़ी क्षेत्र में कई ऐसे अवैध क्लीनिक हैं जिनके माध्यम से ये डॉक्टर ग्रामीण मरीजों का इलाज बिना जांच पड़ताल के करके केवल लक्षण के आधार पर दवाइयां देते हैं। बताया जा रहा है कि क्षेत्र में जो भी क्लीनिक और दवा दुकानें संचालित है उसकी आड़ में नकली दवाइयां मरीजों को दी जाती हैं। यही वजह है कि मरीज ठीक होने की बजाय उसकी हालत और बिगड़ रही है। ऐसे मरीजों को बड़े अस्पतालों में लेकर परिजन पहुंचते हैं तो उन्हें पता चलता है कि गलत दवाई के चलते मरीज की हालत इस तरह से हो रही है। गौरतलब है कि झोलाछाप डॉक्टरों को लेकर समय-समय पर आवाज उठती रही है, लेकिन स्वास्थ्य विभाग ऐसे लोगों पर कार्रवाई करने और उनकी दुकानदारी बंद कराने में नाकाम रहा है। अब तो स्थानीय लोग यहां तक आरोप लगा रहे हैं कि स्वास्थ्य विभाग की मिलीभगत से ही इस तरह की अवैध क्लीनिक और दवा का कारोबार संचालित हो रहा है। बहरहाल, जिला प्रशासन के लिए इस तरह की अव्यवस्था जांच का विषय है और ऐसे लोगों पर कार्रवाई करने की मांग की जा रही है। इस संबंध में सीएमएचओ डॉ. आरएस पाण्डेय का कहना है कि हमें प्रभार अभी मिला है। झोलाछाप डॉक्टर ग्रामीण अंचल में अगर क्लीनिक चला रहे हैं तो इसकी जांच की जाएगी। जांच में जो भी दोषी पाया गया, उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।
Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here