दवा दुकान की आड़ में चल रहे क्लीनिक पर पड़ा छापा

श्रीगंगानगर। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने मंडी 365 हैड के मुख्य बाजार में एक दवा दुकान पर छापा मारा। यहां स्टोर की आड़ में क्लीनिक चल रहा था। हैरानी की बात यह है कि इलाज करने वाले व्यक्ति के पास चिकित्सा संबंधी कोई भी डिग्री-डिप्लोमा नहीं था। टीम को मौके पर 4-6 मरीज बैड पर लेटे ड्रिप लगवाते मिले। टीम ने करीब तीन घंटे तक क्लीनिक पर गहन जांच की। भर्ती मरीजों के बयान दर्ज किए। मौके पर मिली सभी संदिग्ध सामग्री को सील कर दिया गया है। इस संबंध में रावला मंडी पुलिस को लिखित रिपोर्ट देकर मामला दर्ज करवाया है।
टीम सदस्य औषधि नियंत्रण विभाग की ड्रग इंस्पेक्टर डालेश्वरी ने जानकारी देते हुए बताया कि इस संबंध में मंडी 365 हैड निवासी योगेश कुमार शेखावत ने सीएम संपर्क पोर्टल पर शिकायत की थी। शिकायत के अनुसार 365 हैड निवासी रामप्रताप बिना किसी डिग्री अथवा डिप्लोमा के मंडी में अवैध रूप से क्लीनिक का संचालन कर लोगों का उपचार कर रहा है। इससे सैकड़ों लोगों का जीवन खतरे में है। इस पर टीम का गठन कर क्लीनिक पर छापा मारा। टीम ने मौके से बीपी इंस्ट्रमेंट,स्टेथोस्कोप, बच्चों में पोषण की जांच के लिए उपकरण, ड्रिप टांगने के लिए स्टैंड, इंजेक्शन, ड्रिप और कई तरह के वायल सहित वह सभी सामान जब्त किया जो एक डॉक्टर के पास मरीजों के उपचार के लिए आवश्यक होते हैं। सभी चिकित्सकीय उपकरणों को सील कर दिया। आरोपी रामप्रताप इलाज के लिए आवश्यक कोई दस्तावेज टीम के सामने पेश नहीं कर पाया। टीम ने उपकरणों के साथ ही क्लीनिक को भी सीज कर दिया है। आरोपी रामप्रताप ने पूछताछ में बताया कि वह करीब पांच-छह सालों से इस तरह मरीजों का इलाज कर रहा है। लोग खुद चलकर उसके पास उपचार के लिए आते हैं।
Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here