नशीले इंजेक्शन बेचने आया कैमिस्ट दबोचा

पानीपत। सीआईए-वन ने गोहाना रोड एनएफएल नाका के पास से मेडिकल स्टोर के संचालक को गिरफ्तार कर उससे 200 नशीले इंजेक्शन बरामद किए हैं। इनमें 100 इंजेक्शन बूप्रेनोरफिन, 50 इंजेक्शन डायजीलैब और 50 इंजेक्शन एविल शामिल हैं। यह इंजेक्शन मेडिकल स्टोर पर रखना बैन है। पता चला कि आरोपी पानीपत में सप्लाई देने के लिए आ रहा था। तभी पुलिस ने उसको दबोच लिया। 80 रुपए की कीमत वाला यह इंजेक्शन आरोपी 200 से 300 रुपए तक में बेचता था। आरोपी की पहचान प्रदीप पुत्र राजकुमार निवासी नोल्था के रूप में हुई है। उसे कोर्ट में पेश कर पांच दिन की पुलिस रिमांड पर लिया गया है। सीआईए-वन इंचार्ज संदीप छिक्कारा ने बताया कि सीआईए-वन की एक टीम एएसआई राजबीर सिंह के नेतृत्व में गश्त के दौरान गोहाना रोड एनएफएल नाके के पास मौजूद थी। तभी एक युवक बिंझौल नहर की ओर से पैदल आते हुए दिखाई दिया। शक के आधार पर युवक को रोककर तलाशी ली तो उससे इंजेक्शन बरामद हुए। एएसआई ने इंजेक्शन की फोटो ड्रग कंट्रोल अधिकारी विजय राजी के पास वाट्सअप की। उन्होंने बताया कि यह नशीले इंजेक्शन हंै और आम जनता में बेचने पर प्रतिबंधित हैं। आरोपी के खिलाफ माडल टाउन थाने में 21 एनडीपीएस एक्ट के तहत केस दर्ज हुआ है। इंचार्ज ने बताया कि आरोपी नौल्था में भारत मेडिकोज के नाम से मेडिकल स्टोर चलाता है। पूछताछ में उसने इंजेक्शन राजस्थान के उदयपुर से खरीदकर लाना बताया है। उसके साथ और भी लोग तस्करी से जुड़े हुए हैं।
Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here