तीन दवा दुकानों पर छापेमारी, फार्मासिस्ट नहीं मिला तो कही…

लखनऊ। आइजीआरएस से शिकायत मिलने पर कार्रवाई करते हुए एफएसडीए की टीम ने एक दिन में कई जगह छापेमारी कर हड़कंप मचा दिया। केजीएमयू व क्वीनमेरी की अमृत फार्मेसी में छापा मारा तो एक मेडिकल स्टोर को भी निशाने पर लिया गया। इस दौरान कई गड़बड़ सामने आई। साथ ही दवाओं के सैंपल भी लिए।

जनसुनवाई पोर्टल पर मिली शिकायत के आधार पर फूड सेफ्टी एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (एफएसडीए) की एक टीम ने केजीएमयू की ओल्ड ओपीडी स्थित अमृत फार्मेसी का निरीक्षण किया। टीम की सदस्य माधुरी सिंह ने बताया कि फार्मेसी में दवाओं का भंडारण सही से नहीं किया जा रहा था। दवाओं की डंपिंग काफी ज्यादा थी। दवाओं की खरीद-फरोख्त का बिल भी फार्मेसी उपलब्ध नहीं करा सकी। फार्मेसी में गंदगी भी पाई गई। साथ ही शेड्यूल्ड दवाओं का रखरखाव सही से नहीं किया जा रहा था। क्वीनमेरी स्थित फार्मेसी का भी यही हाल था। यहां शिड्यूल-एच दवाओं की बिक्री में गड़बड़ी मिली। दोनों जगह फार्मासिस्ट तो मौजूद थे, लेकिन प्रोपराइटर मौजूद नहीं था।

इतना ही नहीं, ठाकुरगंज स्थित विमला मेडिकल स्टोर पर भी छापा मारा गया। यहां फार्मासिस्ट को अनुपस्थित पाया गया। कई दवाओं की बिक्री पर रोक लगाई गई। केजीएमयू से दो, क्वीनमेरी से दो व विमला मेडिकल स्टोर से एक सैंपल लिया गया है, जिसे जांच के लिए लैब भेजा गया।

 

 

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here