कारिपिल टेबलेट को लेकर दावे झूठे, नहीं करती 48 घंटे में….

नई दिल्ली। अगर आपके पास भी सोशल मीडिया पर ये मैसेज आया है कि कारिपिल टेबलेट लेकर 48 घंटे में डंगू का उपचार हो जाएगा तो जरा अलर्ट हो जाए क्योंकि ये सभी दावे फर्जी है। जानकारों की माने तो ऐसी कोई दवा नहीं है, जो 48 घंटे में डेंगू का उपचार कर दें।

सोशल मीडिया पर मैसेज वायरल हो रहा है कि कारिपिल सिर्फ 48 घंटे में डेंगू का उपचार कर सकती है। वायरल जानकारी में लिखा है कि, यह मुफ्त में उपलब्ध है, जो अंत:करण द्वारा बेची जा रही है। इस जानकारी के साथ में कुछ मोबाइल नंबर भी उपलब्ध करवाए गए हैं। इस मैसेज को फेसबुक और दूसरे मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर भी काफी वायरल किया जा रहा है।

हालांकि एक अखबार की पड़ताल में सभी दावे फर्जी निकले। पड़ताल में ये भी सामने आया कि 2016 में भी यह मैसेज वायरल हुआ था जिसके बाद इसे बेचने वाले क्लिनिक अंत:करण से संपर्क किया गया। वहां के संचालक से जब इस बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि, कारिपिल से हमारा क्लिनिक किसी भी तरह से संबद्ध नहीं है और सोशल मीडिया में जो मैसेज वायरल किया जा रहा है वो फेक है।