एक महीने के ड्रग कंट्रोलर को 20 दिन बाद मिली पावर

अंबाला: 30 मई 2017 को राज्य औषधि नियंत्रक राज कुमार सिंगला की सेवानिवृत्ति के साथ ही जिला/जोन स्तर पर सीनियर ड्रग्स कंट्रोल ऑफिसर की होलसेल लाइसेंस जारी करने की शक्तियां समाप्त हो गयी थी। एक जून से 30 जून तक एक माह के लिए राज्य औषधि नियंत्रक बने एमपी गुप्ता को अब 20 दिन बाद आज सरकार ने राज्य औषधि नियंत्रक की 2 जून से प्रभावी शक्तियां प्रदान की है। नियमानुसार गुप्ता शीघ्र ही जिला/जोन स्तर पर शक्तियां बांट देंगे ताकि लाइसेंस जारी करने का काम पहले की तरह सुचारू रूप से शुरू हो सके और दवा व्यवसाय के लिए इच्छुक लोगों को राहत मिले। अगले महीने एक जुलाई को गुप्ता की सेवानिवृत्ति के बाद नरेंद्र आहूजा राज्य औषधि नियंत्रक बनेंगे। सरकार ने इसकी अधिसूचना जारी कर आगामी 7 जुलाई से आहूजा को प्रभावी शक्तियां प्रदान की हैं। खबर यह भी है कि जुलाई माह में कभी भी पद्म सिंह राठी सहायक राज्य औषधि नियंत्रक पद पर तरक्की हासिल कर सकते हैं। फिलहाल चर्चा इस बात को लेकर है कि एक महीने के लिए ड्रग कंट्रोलर बने एमपी गुप्ता को 20 दिन बाद शक्तियां मिली यानी कुल जमा 10 दिन।