एक साथ 40 स्कूली बच्चों में पीलिया के लक्षण

मनाली (हि.प्र.): एक निजी स्कूल के 17 छात्रों के पीलिया की चपेट में आने से परिजनों में डर पैदा हो गया। अभिभावक बच्चों के स्वास्थ्य को लेकर गहरी चिंता में हैं। 40 छात्रों के कई दिनों तक छुटटी पर रहने पर जब पता किया गया तो करीब 40 छात्रों में एक तरह के लक्षण पाए गए। जिनमें से 20 अभी उपचाराधीन हैं। बात फैली तो प्रशासन हरकत में आ गया। मामले की गंभीरता को देखते हुए मनाली एसडीएम ने आइपीएच और स्वास्थ्य विभाग से इस संबंध में रिपोर्ट तलब की है। पहली से लेकर 11 जुलाई तक अस्पताल में आए पीलिया के मरीजों की सूची मांगी गई है।
       बीएमओ नग्गर डॉ. पलजोर की मानें तो पीलिया को लेकर स्कूल से कोई नया मामला सामने नहीं आया है। स्कूल प्रबंधन को फिल्टर लगाने को कहा गया है। आईपीएच के एसडीओ योगेश कुमार ने बताया कि पानी के स्रोत के सैंपल की रिपोर्ट आने के बाद ही कुछ स्पष्ट हो सकेगा। सीएमओ डॉ. सुशील शर्मा के मुताबिक, स्कूल के जलस्रोत और ब्लड सैंपल की रिपोर्ट का इंतजार है। मौके का मुआयना करने के बाद कुछ हिदायतें दी गई हैं। आईपीएच विभाग को पानी में क्लोरिन डालने को कहा गया है। फिलहाल स्थिति नियंत्रण में है।