दवा लें मगर जूस के साथ नहीं

नई दिल्ली: जूस पीना बेशक सेहत के लिए फायदेमंद होता है लेकिन इसी जूस के साथ दवा लेने की गलती आप कतई न करें।  खासकर जिन मरीजों को ब्लड प्रेशर या दिल की बीमारी है तो उन्हें जूस के साथ दवा लेने से पूरी तरह परहेज करना चाहिए। फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (एफडीए) के मुताबिक, दवाओं का सेवन अंगूर के जूस के साथ बिल्कूल नहीं करना चाहिए।
      अंगूर, संतरे और सेब का रस कैंसर की दवा एटोपोवफोस, बीटा ब्लॉकर दवा एटेनोलोल और एंटी ट्रांसप्लांट रिजेक्शन ड्रग सिस्लोस्पोरीन, सिप्रोफ्लॉक्सासिन, लिवोफ्लॉक्सासिन और इट्राकॉनाजोल जैसे एंटीबायोटिक्स का असर बहुत हद तक कम कर देता है। तीनों फलों का जूस शरीर में दवाओं को सोखने की क्षमता बहुत कम कर देता है। कोई भी दवा स्वच्छ पानी के साथ ही लेना फायदेमंद होती है। कुछ दवाएं चिकित्सीय परामर्श के अनुसार दूध के साथ ली जा सकती हैं। दवा लेने के कुछ घंटे बाद या पहले जूस का सेवन करने में कोई हानि नहीं है।