थोक दवा पार्क के लिए बोली लगाएगी सरकार

लुधियाना। पंजाब सरकार बठिंडा में थोक दवा पार्क स्थापित करने जा रही है। इसके लिए बोली लगाई जाएगी। गौरतलब है कि केंद्र सरकार ने देश में ऐसे तीन पार्क की स्थापना के लिए योजना पेश की है। अधिकारियों के अनुसार पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने यहां राज्य मंत्रिमंडल की बैठक में इस प्रस्ताव को सैद्धांतिक मंजूरी दे दी। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार के सामने प्रस्ताव पेश करने के लिए मंत्रिमंडल की एक उप-समिति गठित की जाएगी जो प्रस्ताव की रूपरेखा तैयार करेगी। केंद्र सरकार ने पार्क की स्थापना के लिए राज्यों के चयन को लेकर कई योग्यताएं निर्धारित की हैं। इसमें न्यूनतम एक हजार एकड़ भूमि की जरूरत भी शामिल है। मुख्यमंत्री कार्यालय के प्रवक्ता के अनुसार मंत्रिमंडलीय उप-समिति में राज्य के वित्त मंत्री मनप्रीत सिंह बादल, उद्योग ओर वाणिज्य मंत्री सुंदर शाम अरोड़ा, राजस्व मंत्री गुरप्रीत सिंह कांगर और आवास एवं शहरी विकास मंत्री सुखविंदर सिंह सरकारिया होंगे। इस परियोजना की अनुमानित लागत 1,878 करोड़ रुपये है। इसमें बुनियादी सुविधाएं तैयार करने की लागत भी शामिल हैं। इसमें से 1,000 करोड़ रुपये का वित्त पोषण केंद्र सरकार करेगी जबकि 878 करोड़ रुपये का व्यय राज्य सरकार करेगी। इसके लिए बठिंडा में अब बंद हो चुके गुरु नानक देव तापीय विद्युत संयंत्र की 1,764 एकड़ भूमि पंजाब शहरी विकास प्राधिकरण को हस्तांतरित करने का निर्णय किया गया है। इसमें से 1,320 एकड़ भूमि की पहचान दवा पार्क स्थापित करने के लिए की गई है।