मेडिकल स्टोर्स पर 400 प्रकार की जेनेरिक दवाइयां रखने के निर्देश  

जोधपुर। संभागीय आयुक्त अमित शर्मा द्वारा जेनेरिक दवाइयों की बिक्री पर फोकस करने के सकारात्मक परिणाम एक पखवाड़े के अंदर ही सामने आ गए। संभाग की सहकारी दवाइयों की 72 दुकानों पर सितंबर महीने में जहां 17 लाख 63 हजार की जेनेरिक दवाइयां बिकी थी, वहीं अक्टूबर के प्रथम पखवाड़े में ही 17.50 लाख की जेनेरिक दवाइयां बिक चुकी है। शर्मा ने सहकारी उपभोक्ता भंडार की दुकानों पर न्यूनतम 400 प्रकार की जेनेरिक दवाइयां रखने के निर्देश दिए हैं।संभागीय आयुक्त शर्मा ने अपने जोधपुर सहकारी उपभोक्ता होलसेल भंडार के फार्मासिस्ट्स की बैठक में जेनेरिक दवाइयों की बिक्री की समीक्षा की। शर्मा ने अब सहकारी भंडार की दुकानों पर केवल जेनेरिक दवाइयों की बिक्री के निर्देश जारी किए हैं। उन्होंने फार्मासिस्ट्स को ग्राहकों के साथ नम्रता पूर्वक व्यवहार रखने और दवाइयों के साइड इफेक्ट सहित अन्य सूचनाएं शेयर करने को भी कहा।

बैठक में सहकारी समितियों के अतिरिक्त रजिस्ट्रार धन सिंह देवल ने बताया कि भंडार की ओर से 511 प्रकार की जेनेरिक दवाइयां उपलब्ध करवाई जाएगी। भंडार महाप्रबंधक रामचरण मीणा ने बताया कि फार्मासिस्ट प्रत्येक ग्राहक को संतुष्ट करके ब्रांडेड और जेनेरिक दवाइयों में अंतर भी बताएगा।संभागीय आयुक्त शर्मा ने कहा कि राज्य सरकार के निर्देशों के विरुद्ध महंगी ब्रांडेड दवाइयां पर्ची पर लिखने वाले चिकित्सक के विरुद्ध कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने फार्मासिस्ट्स को ऐसे चिकित्सकों की सूचना देने को कहा है।