शर्मनाक : केंद्र ने कहा, भ्रूण लिंग जांच करने में हरियाणा कम नही!

रोहतक: कुछ समय पहले केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जगतप्रकाश नड्डा ने हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज को स्वास्थ्य क्षेत्र में बेहतरी के लिए अवॉर्ड दिया था लेकिन अब नड्डा के उसी स्वास्थ्य मंत्रालय ने भ्रूण लिंग जांच के मामले हरियाणा को तीसरे नंबर का जिम्मेदार ठहरा दिया। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, प्रदेश में ‘बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ’ अभियान के तहत सरकार की लाख कोशिश और सख्ती के बावजूद हरियाणा में भ्रूण लिंग जांच के लिए अवैध क्लीनिक खूब फल-फूल रहे हैं। ये हाल तब है जब अखबारों में आए दिन स्वास्थ्य विभाग की टीमे प्रदेश तथा पड़ोसी राज्यों में छापेमारी के नाम पर बड़ी-बड़ी तस्वीरों और खबरों में बनी रहती है।

सूत्रों की मानें तो कई जगह विभाग की कार्रवाई डॉक्टरों मेें सिर्फ भय का माहौल पैदा करने के लिए ज्यादा नजर आती है। वैसे कई बार लिंग जांच में स्वास्थ्य विभाग द्वारा पकड़े जाने वाले डॉक्टर छापामार टीम पर जानबूझकर ‘फंसाने’ के सार्वजनिक आरोप लगा चुके हैं। शहर में एमटीपी किट से जुड़े मामले में स्वास्थ्य विभाग द्वारा पकड़ा गया एक व्यक्ति कोर्ट से बरी भी हो चुका है, जिस पर कोर्ट ने स्वास्थ्य विभाग को कड़ी फटकार लगाई थी।

दूसरा, कई जगह अधिकारी ईमानदारी बरतते हैं तो लिंग जांच में पकड़े जाने वाले डॉक्टर या केमिस्ट नेताओं की धौंस से बच निकलते हैं। कुछ महीने पहले झज्जर के पूर्व सीएमओ डॉक्टर धनखड़ का केस कौन भूल सकता है। जिसमें स्वास्थ्य मंत्री ने डॉ. धनखड़ को सस्पेंड कर दिया था और मुख्यमंत्री ने 24 घंटे बाद ही उन्हें बहाल कर दिया। यह मामला भी भ्रूण लिंग जांच में लिप्त एक डॉक्टर और उसके क्लीनिक से जुड़ा था।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रलाय के अनुसार देश मेें हरियाणा ऐसे अवैध भ्रूण जांच क्लीनक के मामले में तीसरे स्थान पर है।पहले नंबर पर महाराष्ट्र और दूसरे नंबर पर राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली है। मंत्रालय के मुताबिक, देश में 294 से ज्यादा ऐसी क्लीनिक हैं, जो अवैध रूप से प्रसव पूर्व लिंग जांच कर रहे थे। इनके खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। हरियाणा में ऐसी 41 मामले सामने आए हैं। शर्मनाक बात ये कि हरियाणा की धरती से ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बेटी बचाओ अभियान का आगाज किया था बावजूद इसके इस कलंकित काम को अंजाम देने वालों में स्वास्थ्य विभाग और तेजतर्रार स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज के नाम का कोई खौफ नहीं है।