स्थानीय कंपनियों से दवा की खरीद पर लगी रोक, स्वास्थ्य मंत्री ने दी जानकारी

शिमला। हिमाचल प्रदेश सरकार ने सरकारी अस्पतालों के लिए लोकल कंपनियों से दवा की खरीद पर रोक लगा दी है। दवा कंपनियों के सैंपल फेल होने पर यह निर्णय लिया गया है। विधायक रामलाल ठाकुर, लखविंद्र सिंह राणा और रमेश चंद ध्वाला के लिखित सवालों के जवाब में स्वास्थ्य मंत्री डॉ. राजीव सैजल ने यह जानकारी सदन में दी। उन्होंने बताया कि सभी सरकारी अस्पतालों, आयुर्वेद महाविद्यालयों और दंत चिकित्सालयों में दवाइयों की खरीद के लिए प्रक्रिया के तहत निविदा आमंत्रित करने के नियम बनाए गए हैं। केंद्रीय सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों की 103 दवाइयों की सूची होनी चाहिए। मेंटल अस्पताल के लिए 2017 से लेकर 31 जनवरी 2020 तक 18 लाख 24 हजार 741 रुपये की धनराशि से दवाइयां खरीदी गई हैं। जिला स्तर के अस्पतालों के लिए 2017 से लेकर 31 जनवरी, 2020 तक 130 करोड़ 73 लाख रुपये की दवाइयों की खरीद की गई। साथ ही 17 करोड़ 44 लाख रुपये के उपकरण भी खरीदे गए।