कैमिस्टों को आ रही समस्याओं का जल्द समाधान किया जाए : सुरेश गुप्ता

अपनी मांगों का एक ज्ञापन अर्जुन राम मेघवाल को दिया

न्यू दिल्ली। आॅल इंडिया आर्गेनाइजेशन आॅफ कैमिस्ट एंड ड्रगिस्ट के महासचिव सुरेश गुप्ता, पंजाब कैमिस्ट एसोसिएशन के महासचिव सुरेंद्र दुग्गल, पंजाब कैमिस्ट एसोसिएशन के कार्यकारी अध्यक्ष जी. एस चावला, पंजाब कैमिस्ट एसोसिएशन व पंजाब फार्मेसी काउंसिल के चेयरमैन सुरेंद्र शर्मा, अमृतसर रिटेल कैमिस्ट एसोसिएशन के अध्यक्ष संजीव भाटिया और दीपक भंडारी अमृतसर के सांसद श्वेत मलिक के प्रतिनिधिमंडल के साथ कैमिस्टों के मुद्दों को लेकर अर्जुन राम मेघवाल, उपाध्यक्ष, जीएसटी काउंसिल एंड डिप्टी मिनिस्टर आॅफ फाइनेंस, भारत सरकार से दिल्ली में मिले।
सांसद श्वेत मलिक ने कैमिस्टों की समस्याओं और मुद्दों को लेकर अर्जुन राम मेघवाल को समझाया और उनसे अनुरोध किया कि जल्द से जल्द कैमिस्टों को आ रही समस्याओं का समाधान किया जाए।
आॅल इंडिया आर्गेनाइजेशन आॅफ कैमिस्ट एंड ड्रगिस्ट के महासचिव सुरेश गुप्ता ने कहा कि फार्मा कंपनियों को वापसी के लिए एक्सपायरी, ब्रेक्रेज, लीकेज, नान सीलेबल, प्रतिबंध वाली दवाइयां, कम दरों की दवाएं पुनः लागू नहीं की जा सकती। वर्तमान में दवाइयां फार्मा कंपनियों को डेबिट और क्रेडिट नोट्स के रूप में वापिस की जा रही हैं लेकिन जीएसटी इसकी अनुमति नहीं देता। इसके चलते कैमिस्ट अतिरिक्त कर और वितीय नुकसान का सामना कर रहे हैं।
एआईओसीडी महासचिव सुरेश गुप्ता ने यह भी बताया कि एकल वस्तु ‘औशधि’ में पांच कर स्लैब 0, 5, 12, 18 और 28 प्रतिशत हैं, जिसके कारण बिल बनाते हुए कैमिस्टों को बहुत दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।
आॅल इंडिया आर्गेनाइजेशन आॅफ कैमिस्ट एंड ड्रगिस्ट ने अर्जुन राम मेघवाल, उपाध्यक्ष, जीएसटी काउंसिल एंड डिप्टी मिनिस्टर आॅफ फाइनेंस, भारत सरकार से अनुरोध किया कि भारत भर के लगभग 8 लाख कैमिस्टों और आमजन की सुविधा के लिए जल्द ही इन समस्याओं का समाधान किया जाए।