कोरोना संक्रमण का मंडरा रहा खतरा, बच्चों को बचाने के लिए होगा दवा किटों का वितरण

बच्चों और किशोरों को कोरोना संक्रमण से बचाने के लिए स्वास्थ्य विभाग 27 जून से दवा किटों का वितरण करेगा। 0-18 वर्ष की चार श्रेणियां बनाकर दवा का वितरण किया जाएगा। मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. अर्चना श्रीवास्तव ने बताया कि दवाएं शासन से प्राप्त हो चुकीं हैं।

औरैया। बच्चों और किशोरों को कोरोना संक्रमण से बचाने के लिए स्वास्थ्य विभाग 27 जून से दवा किटों का वितरण करेगा। 0-18 वर्ष की चार श्रेणियां बनाकर दवा का वितरण किया जाएगा। मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. अर्चना श्रीवास्तव ने बताया कि दवाएं शासन से प्राप्त हो चुकीं हैं। वितरण में निगरानी समितियों और ग्रामीण क्षेत्रों में बनाई गई टीमों की मदद ली जाएगी। वितरण में किसी में संक्रमण मिलने पर दवाओं की किट प्रदान की जाएगी।

बताया कि तीसरी लहर में संक्रमण का खतरा बच्चों में अधिक है। बताया कि इस मौसम में संक्रमण तेजी से फैलता है। यह समय किसी जोखिम से कम नहीं है। लोगों को सावधानी बरती होगी। इस बार बच्चों को दवाएं देकर उनकी सेहत का ध्यान देना है। उन्होंने बताया कि शून्य से पांच साल के बच्चों को आइवरमेस्टिन और एजिथ्रोमाइसिन दवाएं नहीं दी जानी है। छह से 12 साल के बच्चों को कम मात्रा वाली दवाएं दी जानी है। 13 से 17 साल के बच्चों को सामान्य दवाएं दी जाएंगी।