नशीली दवा बेचता मिला फर्जी डॉक्टर, ड्रग इंस्पेक्टर ने भेजा जेल

उत्तराखंड के हरिद्वार में ड्रग इंस्पेक्टर ने एक फर्जी एमबीबीएस डॉक्टर को गिरफ्तार किया है। आरोप है कि डॉक्टर ने एमबीबीएस की डिग्री का नकली बोर्ड लगा रखा था और अंदर नशीले ड्रग्स बेचने का काम करता था। जांच-पड़ताल की गई तो सच्चाई का पता चला। इसके बाद ड्रग इंस्पेक्टर ने फर्जी डॉक्टर को गिरफ्तार कर लिया।

हरिद्वार। उत्तराखंड के हरिद्वार में ड्रग इंस्पेक्टर ने एक फर्जी एमबीबीएस डॉक्टर को गिरफ्तार किया है। आरोप है कि डॉक्टर ने एमबीबीएस की डिग्री का नकली बोर्ड लगा रखा था और अंदर नशीले ड्रग्स बेचने का काम करता था। जांच-पड़ताल की गई तो सच्चाई का पता चला। इसके बाद ड्रग इंस्पेक्टर ने फर्जी डॉक्टर को गिरफ्तार कर लिया।

ड्रग इंस्पेक्टर अनिता भारती ने बताया कि हरिद्वार देहात क्षेत्र से इस तरह की लगातार शिकायतें मिलती रहती थीं। इसी क्रम में हफ्ते में तीन से चार दिन सभी क्षेत्रों में छापेमारी अभियान लगाया गया था। इसी क्रम में शुक्रवार को घिससुपुरा क्षेत्र में छापेमारी अभियान चल रहा था, तभी यह दुकान दिखी। दुकान पर जाकर वहां मौजूद व्यक्ति से कागज दिखाने को कहा गया तो उसने बताया कि उसके डाक्यूमेंट्स ऑफिस में जमा हैं।

आधार कार्ड देखने पर पता चला कि व्यक्ति का नाम राजकुमार चटर्जी है लेकिन उसने दुकान के बाहर राजकुमार गर्ग नाम का नकली बोर्ड लगाया हुआ है। सख्ती से जांच पड़ताल करने पर उसने बताया कि उसके पास डॉक्यूमेंट नहीं हैं। ड्रग इंस्पेक्टर अनिता भारती ने बताया कि आरोपी की दुकान से बड़ी मात्रा में अल्प्राजोलम, ट्रामादोल, स्पास्मो प्रोक्सिवों जैसी प्रतिबंधित नारकोटिक्स दवाओं की बड़ी खेप मिली है। सभी को सैंपल के लिए भेज दिया है। साथ ही आरोपी को पुलिस के हवाले कर जेल भेज दिया गया है।