बाजार में DRDO की बनाई 2DG दवा अब इस नाम से बिकेगी, तय हुई कीमत

हैदराबाद स्थित डॉ. रेड्डी लैबोरेट्रीज ने डीआरडीओ की बनाई एंटी-कोविड दवा का नाम और कीमत तय कर दी है। डॉ. रेड्डी ने बताया कि वो इस दवा को बाजार में 2DGTM के नाम से बेचेगी। इसके एक सैशे की कीमत 990 रुपये होगी। कंपनी के मुताबिक, दवा को फिलहाल बड़े शहरों में ही बेचा जाएगा, लेकिन धीरे-धीरे इसका दायरा बढ़ाया जाएगा।

हैदराबाद। हैदराबाद स्थित डॉ. रेड्डी लैबोरेट्रीज ने डीआरडीओ की बनाई एंटी-कोविड दवा का नाम और कीमत तय कर दी है। डॉ. रेड्डी ने बताया कि वो इस दवा को बाजार में 2DGTM के नाम से बेचेगी। इसके एक सैशे की कीमत 990 रुपये होगी। कंपनी के मुताबिक, दवा को फिलहाल बड़े शहरों में ही बेचा जाएगा, लेकिन धीरे-धीरे इसका दायरा बढ़ाया जाएगा। ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया ने इस दवा के इमरजेंसी यूज को 1 मई को मंजूरी दी थी।

इस दवा को डीआरडीओ के इंस्टीट्यूट ऑफ न्यूक्लियर मेडिसिन एंड अलायड साइंसेस और हैदराबाद सेंटर फॉर सेल्युलर एंड मॉलिक्युलर बायोलॉजी ने साथ मिलकर तैयार किया है। इस दवा को 2-deoxy-D-glucose (2-DG) नाम दिया गया है और इसकी मैनुफैक्चरिंग की जिम्मेदार हैदराबाद स्थित डॉ. रेड्डी लैबोरेट्रीज को दी गई है।

इस दवा को अभी तक सिर्फ चुनिंदा अस्पतालों में ही इस्तेमाल किया जा रहा था, लेकिन अब इस दवा को सरकारी के साथ-साथ प्राइवेट अस्पतालों को भी बेचा जाएगा। डॉ. रेड्डी ने सोमवार को इस दवा को कमर्शियली लॉन्च कर दिया है। ये दवा पाउडर के रूप में है और इसके एक सैशे की कीमत 990 रुपये तय की गई है।

ये दवा पाउडर के रूप में आती है, जिसे पानी में घोलकर लिया जाता है। ये दवा संक्रमित कोशिकाओं में जमा हो जाती है और वायरल सिंथेसिस और एनर्जी प्रोडक्शन कर वायरस को बढ़ने से रोकती है। इस दवा की खास बात ये है कि ये वायरस से संक्रमित कोशिकाओं की पहचान करती है। दावा है कि इस दवा से कोरोना मरीजों की ऑक्सीजन पर निर्भरता कम होगी और उन्हें ज्यादा दिन तक अस्पताल में रुकने की जरूरत भी नहीं होगी।