कैंसर की दवा के नाम पर लाखों की ठगी करने वाला आरोपी काबू

अंबाला। कैंसर की शर्तिया दवा देने के नाम पर अंबाला शहर के राजीव कुमार से 30.30 लाख ठगी के मामले में पुलिस ने यमुनानगर के छछरौली वासी बिजेंद्र सिंह को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी को शनिवार को कोर्ट में पेश कर सात दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया। 17 जून को मॉडल टाउन के राजीव कुमार ने शहर थाना पुलिस को दी शिकायत में बताया था कि हमारी घास मंडी में पर्दों की दुकान है। इसके अलावा हमारा इकोनोर हेल्थ केयर सेंटर भी है। दुकान पर लंबे समय से सिंघावाला के रणजीत सिंह पर्दों की खरीद के लिए आता था।

इसी कारण मेरी उससे दोस्ती हो गई थी। वह पिछले वर्ष दिसंबर माह में रणजीत दुकान पर आया था। उसने बताया कि यमुनानगर का बिजेंद्र कैंसर की शर्तिया दवा देता है। यह अति दुर्लभ दवा है। सैकड़ों मरीज ठीक हो चुके हैं। कोई कैंसर का मरीज हो तो बताना। राजीव ने बताया कि मेरा दोस्त मोहन लाल सैनी और संदीप कैंसर से पीड़ित हैं। कुछ दिन बाद रणजीत, बिजेंद्र के साथ दुकान पर आया था। बताया कि गाजियाबाद का राजेंद्र नागर दवा लाकर देगा। राजीव ने मोहन सैनी और संदीप को दुकान पर ही बुला लिया। रणजीत और बिजेंद्र ने राजेंद्र नागर के साथ फोन पर हमारी बातचीत करवा दी।

राजेंद्र नागर ने दवा की कीमत 70 लाख बताई। इस पर रणजीत और बिजेंद्र ने राजीव से कहा कि आप हमारे पुराने मित्र हैं। इसीलिए दवा 55-60 लाख में दिलवा देंगे। इसके बाद सौदा 52 लाख रुपये तय हुआ। इस पर राजीव ने मोहन और संदीप के सामने एक लाख रुपये दोनों को दे दिए। कुछ दिन बाद राजेंद्र नागर दुकान पर आया। बताया कि दवा तैयार हो गई है। 5 लाख रुपये अभी दे दें। उसके पास एक ही लाख रुपये थे वह उसने दे दिए। इसके बाद 28.30 लाख रुपये भी दवा के लिए उन्होंने आरोपियों को दे दिए। लेकिन न तो दवा दी और न ही राशि लौटाई।