भारतीय दवा कंपनी ने पेश की कोरोना की दवा

नई दिल्ली। घरेलू दवा कंपनी एफडीसी लिमिटेड ने कोरोना के इलाज के लिए दवा पेश की है। कंपनी ने सोमवार को इसके बारे में जानकारी दी। एफडीसी ने कहा कि उसने देश में कोविड-19 के हल्के से मध्यम मामलों के इलाज के लिए फेविपिराविर की ओरल सस्पेंशन दवा बाजार में उतारी है। यह दवा केवल डॉक्टर का प्रेस्क्रिप्शन दिखाने पर ही दवा की दुकानों में मिलेगी। यह दवा देश के सभी खुदरा दवा दुकानों और अस्पताल के दवाखानों में उपलब्ध है। यह एक असाधारण दवा है, क्योंकि इसका सुविधाजनक लोडिंग डोज कोविड-19 के इलाज की प्रक्रिया को आसान बनाता है।

एफडीसी के व्यापार विकास एवं व्यावसायिक उत्कृष्टता विभाग महा प्रबंधक मयंक टिक्खा ने कहा, ” कोविड-19 के मामले फिर से बढ़ रहे हैं, इसलिए यह हमारे देश में स्वास्थ्य सेवा योद्धाओं को इस बीमारी के खिलाफ निरंतर लड़ाई में व्यवहारिक विकल्प प्रदान करने का वक्त है। उन्होंने कहा, “कोविड-19 का मुकाबला करने के लिए, हम अपने रोगियों को सुविधा के साथ-साथ सर्वोत्तम प्रभावकारिता प्रदान करने में विश्वास करते हैं। इस तरह हमने कोविड-19 के इलाज की प्रक्रिया को हर तरह से आसान करने के अपने प्रयासों पर ध्यान केंद्रित किया है। देश में कोरोना की तीसरी लहर आने की आशंका है। फेविपिराविर की ओरल सस्पेंशन कोरोना के संक्रमण के मामलों को नियंत्रित करने में मददगार साबित हो सकता है।