ड्रग कंट्रोलर ने की दवा दुकानों की जांच, मिली खामियां

राजौरी। शुक्रवार को डिप्टी कंट्रोलर ड्रग्स जम्मू पूर्णिमा कभु और उनकी पूरी टीम ने नौशहरा का दौरा किया और दवाइयों की दुकानों की जांच की। डिप्टी कंट्रोलर ड्रग्स जम्मू पूर्णिमा कभु ने कहा कि हमें दुकानों के खिलाफ कुछ शिकायत मिली थी। उसी को देखने के लिए हमने सभी दुकानों की जांच की। कुछ दुकानों में ऐसा पाया गया है कि कुछ दुकानदारों ने दवा बाहर रखी थी, जो कि फ्रीज में रखी जाती हैं। कुछ ऐसी भी दवाइयां मिलीं जिनका रिकार्ड नहीं था। उन दुकानदारों के खिलाफ हमने एक्शन लिया। बाकी जितनी भी दुकानें है, सभी दुकानों की जांच की जा रही है।

हमारे जांच करने का एक ही मकसद है लोगों को जागरुक करना और इस बारे में लोगों को जानकारी देना कि किस प्रकार दवाइयां रखनी चाहिए। कौन से दवाइयां फ्रिज में रखनी चाहिए और कौन से दवाइयों को बाहर रखना चाहिए, ताकि लोगों को सही और अच्छी दवाइयां मिल सकें। हालांकि इससे पहले हमारे ड्रग्स इंस्पेक्टर आते रहते हैं और चक्कर लगाते रहते हैं। दुकानों में चेकिग होती रहती हैं, मगर इनकी बात कोई नहीं मानता है। बहुत कम लोग उनकी बात को मानते हैं। कुछ अनसुना कर देते हैं। उसी चीज को देखते हुए आज मैं खुद यहां पर आई हूं। मैंने खुद जांच की और देखा कि ज्यादातर दवाइयों की दुकानों पर भीड़ होती है।

ज्यादातर लोग मास्क नहीं पहनते हैं और न ही दुकानदार उनको मास्क पहनने के लिए बोलते हैं। किसी भी दुकान के बाहर गोल दायरे नहीं बनाए गए हैं और न ही उचित दूरी बनाए रखी गई है। हम चाहते हैं कि सभी दुकानदार इस बारे में जागरूक हों और मास्क पहनकर ही दुकानों पर लोगो को आने दें। उचित दूरी बनाकर ही लोगों को दवाइयां दें। दुकानों पर भीड़ न होने दें। साथ ही सभी लोगों से अपील करूंगी कि जो भी लोग दुकानों पर दवा लेने के लिए आते हैं, वे बिल जरूर मांगें और दुकानदारों से भी अपील करूंगी कि सभी दुकानदार ग्राहक को दवा का बिल जरूर दें। हम आने वाले समय में शिविर लगाएंगे और लोगों को इस बारे में अधिक से अधिक जानकारी देंगे, ताकि लोग जागरूक हो सकें।इस मौके पर लीगल सेल जम्मू से सहायक नियंत्रक रेणुका रैना, ड्रग कंट्रोल आफिसर अमित महाजन मौजूद थे।