इस ड्रग हाउस से करोड़ों की गर्भपात किट की बिक्री, औषधि विभाग ने की कार्रवाई

आगरा। माधव ड्रग हाउस से करोड़ों की गर्भपात किट की बिक्री की गई। औषधि विभाग की टीम ने दो दिन तक चली कार्रवाई के बाद 2019 और 2020 में गर्भपात किट की खरीद बिक्री का ब्योरा जब्त कर लिया है। सोमवार से जांच शुरू कर दी गई। औषधि अनुज्ञापन प्राधिकारी विक्रय, आगरा मंडल डॉ.अखिलेश कुमार जैन ने बताया कि हरियाणा और राजस्थान में गर्भपात के लिए फव्वारा दवा बाजार से गर्भपात किट खरीदने की शिकायत मिली थी। दिसंबर 2020 में माधव ड्रग हाउस का रिकार्ड जब्त किया गया था,लेकिन, पूरा रिकार्ड नहीं दिया था। अब खरीद और बिक्री का रिकार्ड मिल गया है। इसकी जांच शुरू करा दी गई है। वहीं, 17 दवाओं की खरीद और बिक्री के रिकार्ड में गड़बड़ी मिली थी, इसके लिए नोटिस दिया गया है।

टिटनेस इंजेक्शन मामले में आज परिवाद होगा दायर

औषधि विभाग की टीम ने कार्रवाई के दौरान 14640 टिटनेस के इंजेक्शन दो से आठ डिग्री तापमान पर स्टोर न करने पर सीज किए गए थे। इस मामले में मंगलवार को कोर्ट में परिवाद दायर किया जाएगा। हालांकि, माधव ड्रग हाउस के संचालक का आरोप है कि टिटनेस के इंजेक्शन की कोल्ड चेन ब्रेक नहीं हुई थी, इंजेक्शन कोल्ड चेन से बाहर निकालने के बाद जब्त कर लिए गए।