बुखार, खांसी व दर्द को मात देने के लिए स्वास्थ्य विभाग तैयार, मंगवाई गईं 40 प्रकार की दवा

तिर्वा। कोरोना की संभावित स्थिति से निपटने के लिए मेडिकल कालेज में तैयारियां जोरों पर चल रहीं हैं। इसके लिए रेमडेसिविर इंजेक्शन के 190 डोज स्टाक में रखे गए हैं। इसके साथ ही बच्चों के लिए 40 प्रकार की ड्राप, सिरप व इंजेक्शन मंगवाए गए हैं। पैरासीटामोल के सीरप, ड्राप, इंजेक्शन हैं। कैल्शियम, आयरन, एमाक्सी क्लेब, सिफिक्जिम, लीवो सिटर्जिन, लोशन समेत 40 प्रकार की दवा आई हैं।

कोरोना की तीसरी लहर को लेकर स्वास्थ्य विभाग ने टीकाकरण का महाअभियान किया। 152 केंद्रों पर 27755 लोगों टीका लगाया गया। इसमें सबसे ज्यादा युवाओं ने बढ़ चढ़कर टीका लगवाया। सबसे ज्यादा उमर्दा ब्लाक वैक्सीनेशन हुआ। जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डाक्टर गीतम सिंह ने बताया कि टीकाकरण महाअभियान में 152 केंद्रों पर टीकाकरण किया गया। इसमें 27755 लोगों को टीका लगा।

18 से 44 वर्ष के 18505 व 45 के ऊपर 9250 लोगों को टीका है। उन्होंने बताया कि कन्नौज 4629, जिला अस्पताल 133, जलालाबाद 2204, गुगरापुर 1680, तालग्राम 4506, सौ शैय्या अस्पताल 211, छिबरामऊ सीएचसी 4383, सौरिख 2526, हसेरन 2520, उमर्दा 4745 व मेडिकल कालेज में 218 लोगों का टीकाकरण किया गया। सीएमओ डाक्टर विनोद कुमार ने बताया कि जनपद में लक्ष्य से ज्यादा वैक्सीनेशन हुआ है। तो वहीँ राजकीय मेडिकल कालेज के आइसोलेशन व पीआइसीयू वार्ड में तैयारियां की जा रहीं हैं।

बच्चों के लिए 100 बेड का पीआइसीयू बनाया गया है। इसमें 30 वेंटिलेटर भी लगाए गए हैं। सर्दी, खांसी, जुकाम, बुखार, दर्द समेत 40 प्रकार की दवाओं का स्टाक कर लिया गया है। हर दवा के 400 से 500 टेबलेट के डिब्बे मंगवाए गए। इसके साथ ही कोरोना में असरदार रेमडेसिवीर के 190 इंजेक्शन स्टाक में रखे गए हैं। इसकी पूरी निगरानी मेडिकल कालेज प्रशासन की रहेगी। विशेषज्ञ डाक्टर की सलाह पर ही मरीज को रेमडेसिवीर का इंजेक्शन लगाया जाएगा।