स्वास्थ्य विभाग का छापा, प्रतिबंधित दवा मिलने पर दो दवा दुकानें सील

भिवानी। पंजाब पुलिस और स्वास्थ्य विभाग भिवानी की संयुक्त टीम ने प्रतिबंधित दवाएं रखने के आरोप में शहर के दो मेडिकल स्टोर को सील किया है। टीम ने कोंट रोड से एक मेडिकल स्टोर को सील किया है। वहीं, दूसरी ओर हनुमान ढाणी स्थित मेडिकल स्टोर संचालक पर भी मामले में संलिप्त होने के चलते उसे भी सील कर दिया है। पंजाब में फैले नशे के कारोबार के तार भिवानी से भी जुड़े हुए हैं। चार दिन पहले पंजाब के बरनाला में प्रतिबंधित दवाइयों के साथ पकड़े गए गिरोह के सदस्यों ने पूछताछ में खुलासा किया कि वे भिवानी से प्रतिबंधित दवाइयां मंगवाते हैं।

इस पर पंजाब पुलिस ने एक टीम बनाई और भिवानी कार्रवाई करने के लिए पहुंची। स्वास्थ्य विभाग से संपर्क किया। उन्होंने जिला औषधि नियंत्रक हेमंत ग्रोवर को साथ लेकर हनुमान ढाणी क्षेत्र और कोंट रोड स्थित दो मेडिकल स्टोर पर छापे मारे। कोंट रोड से एक मेडिकल स्टोर से ट्रामाडोल कैप्सूल बरामद हुए। पुलिस ने सेल्समैन संदीप को भी पूछताछ के लिए हिरासत में भी लिया है। गिरफ्तार किए आरोपी को पंजाब पुलिस अपने साथ ले गई। इस मेडिकल स्टोर को सील कर दिया गया। वहीं दूसरी ओर हनुमान ढाणी स्थित मेडिकल स्टोर संचालक पर भी मामले में संलिप्त होने के चलते उसे भी सील कर दिया है।

मेडिकल स्टोर के सहयोगी भारत नगर निवासी एक मोहित को गिरफ्तार किया गया। बतादें कि मारे गए छापे में कोंट रोड स्थित मेडिकल स्टोर से ट्रामाडोल के 72 कैप्सूल बरामद हुए हैं। इसके अलावा ट्रामाडोल के 18 खाली पत्ते भी पुलिस को मिले हैं। कोंट रोड से पुलिस ने सेल्समैन संदीप को हिरासत में ले लिया है। हनुमान ढाणी स्थित मेडिकल स्टोर पर भी प्रतिबंधित दवाएं होने की सूचना थी। जांच के दौरान मेडिकल स्टोर का इंजार्च वहां नहीं मिला तो उसके सहयोगी भारत नगर निवासी मोहित को पुलिस ने गिरफ्तार किया है।

आगे की जांच के लिए मेडिकल स्टोर को सील कर दिया गया है। भिवानी के जिला औषधि नियंत्रक -हेमंत ग्रोवर पंजाब पुलिस की सूचना पर संयुक्त टीम ने शहर के दो मेडिकल स्टोर सील किए हैं। कोंट रोड स्थित मेडिकल स्टोर से प्रतिबंधित कैप्सूल मिले हैं। वहीं हनुमान ढाणी स्थित स्टोर को जांच के लिए सील किया गया है। जैन पुलिस चौकी के प्रभारी दशरथ ने बताया कि पंजाब पुलिस की टीम ने छापेमारी के लिए सुरक्षा मांगी थी। इस पर दो कर्मचारियों को टीम के साथ भेज दिया गया था। यह कार्रवाई पंजाब पुलिस की ओर से की गई है।