जॉनसन एंड जॉनसन ने सिंगल-डोज वैक्सीन के इमरजेंसी यूज की मांगी मंजूरी

नई दिल्ली। कोरोना का के मामले एक बार फिर से बढ़ते ही जा रहें है। अब इसी कड़ी में जॉनसन एंड जॉनसन ने अपनी सिंगल-शॉट वैक्सीन के लिए इमरजेंसी इस्तेमाल की मंजूरी मांगी है। ग्लोबल हेल्थकेयर कंपनी जॉनसन एंड जॉनसन ने कहा है कि उसने भारत में अपनी एक डोज वाली COVID-19 वैक्सीन के इमरजेंसी यूज के लिए के लिए आवेदन किया है। इससे पहले सोमवार को कंपनी ने कहा था कि वह भारत में अपनी एक डोज वाली COVID-19 वैक्सीन लाने के लिए प्रतिबद्ध है और इसके लिए भारत सरकार के साथ बातचीत के लिए तत्पर है।

जॉनसन एंड जॉनसन इंडिया के प्रवक्ता ने एक बयान में कहा है कि 5 अगस्त, 2021 को जॉनसन एंड जॉनसन प्राइवेट लिमिटेड ने भारत सरकार को अपनी एक डोज वाली COVID-19 वैक्सीन के EUA के लिए आवेदन दिया है। बयान में कहा गया है कि बायोलॉजिकल ई लिमिटेड के सहयोग से कंपनी की एक डोज वाली COVID-19 वैक्सीन भारत और दुनिया के लिए एक मील का पत्थर साबित होगी। बायोलॉजिकल ई हमारे ग्लोबल सप्लाई चेन का महत्वपूर्ण हिस्सा है, जो जॉनसन एंड जॉनसन COVID-19 वैक्सीन की सप्लाई में मदद करेगा। स्वास्थ्य अधिकारियों और संगठनों जैसे कि Gavi और COVAX के जरिए हम इसे और मजबूत करेंगे।

EUA सबमिशन फेज 3 क्लिनिकल ट्रायल के सुरक्षा डाटा के आधार पर दिया गया है। थर्ड फेज के ट्रायल के परिणाम में दावा किया गया है कि कंपनी की सिंगल-शॉट वैक्सीन 85 प्रतिशत तक सुरक्षा देती है। ये भी डाटा में दावा किया गया है कि वैक्सीन लगने के 28 दिनों के भीतर ये मृत्यु दर को कम करने, अस्पताल में भर्ती होने से भी रोकने में सक्षम है। बयान में कहा गया है, हम महामारी को खत्म करने में मदद करने के लिए हमारी COVID-19 वैक्सीन की उपलब्धता में तेजी लाने के लिए प्रतिबद्ध हैं।