ड्रग विभाग की छापेमारी, दवा दुकान से 70 हजार की अवैध दवाइयां बरामद

राज्य की सबसे बड़ी थोक दवा मंडी गोविद मित्रा रोड में लगातार तीसरे दिन ड्रग विभाग ने छापेमारी की। इस क्रम में जय फॉर्मा एजेंसी से 70 हजार रुपये मूल्य की अवैध दवाइयां बरामद की गई। इनमें से 27 प्रकार की दवाइयां बिना किसी क्रय-बिक्रय प्रमाण की पायी गईं।

पटना। राज्य की सबसे बड़ी थोक दवा मंडी गोविद मित्रा रोड में लगातार तीसरे दिन ड्रग विभाग ने छापेमारी की। इस क्रम में जय फॉर्मा एजेंसी से 70 हजार रुपये मूल्य की अवैध दवाइयां बरामद की गई। इनमें से 27 प्रकार की दवाइयां बिना किसी क्रय-बिक्रय प्रमाण की पायी गईं। तीन दवाओं की गुणवत्ता पर संदेह होने के कारण उन्हें जांच के लिए लैब में भेजा गया है। सहायक ड्रग नियंत्रण विश्वजीत दासगुप्ता ने बताया कि जीएम रोड की कई दुकानों से दवाओं के अवैध करोबार की शिकायत विभाग को मिल रही है। इस क्रम में डॉ. अमल के नेतृत्व में लगातार तीसरे दिन छापेमारी की गई। दवा दुकानों में छापेमारी आगे भी जारी रहेगी। वहीं जीएम रोड के एक बड़ी दवा एजेंसी ने ड्रग विभाग के पदाधिकारियों पर मनमानी का आरोप लगाया। कहा कि छापेमारी सिर्फ दिखावा है। इसके पीछे की मंशा कुछ और है। बताया कि इस तरह कई छापेमारी पूर्व में भी हो चुकी है। लेकिन बाद में कार्रवाई का कुछ खास प्रभाव दुकानदारों पर नहीं पड़ता दिख रहा है।