डेढ़ करोड़ की नकली स्टोरॉयड और 50 लाख का सामान बरामद

ग्रेटर नोएडा : औषधि विभाग की टीमों ने मेरठ मंडल के चार जिलों के बादलपुर कोतवाली क्षेत्र के बिसनुली गांव में नकली स्टेरॉयड दवा बनाने की कंपनी पर छापेमारी की. पुलिस ने तीन लोगों को गिरफ्तार किया है.
यह कंपनी दो कमरों में चल रही थी. अधिकारियों का कहना है कि कंपनी ने बड़ी मात्रा में स्टोरॉयड बेचने की योजना बनाई थी. उसी हिसाब से स्टोरॉयड तैयार किया गया था. स्टेरॉयड की गुणवत्ता की जांच के लिए सैंपल लेकर लैब में भेजा गया है. पुलिस को छापेमारी के दौरान डेढ़ करोड़ की नकली स्टोरॉयड व 50 लाख का अन्य समान बरामद हुआ है.
मेरठ मंडल के गौतमबुद्ध नगर, गाजियाबाद, मेरठ और बुलंदशहर की टीमों ने बादलपुर कोतवाली पुलिस के साथ मिलकर कंपनी पर छापा मारा. यहां से करीब डेढ़ करोड़ रुपये के इंजेक्शन और दवाएं मिली.
पुलिस को इसके अलावा स्टेरॉयड बनाने की मशीन और कार भी बरामद हुई है. कंपनी से बरामद स्टेरॉयड इंपोटेड 000बताई जा रही है. इसकी पैकिंग पर उत्पादन रूस और बर्लिन लिखा है.
आरोपी रूस और बर्लिन के नाम से अवैध रूप से दवा बना रहे थे. विभाग का कहना है कि रूस और बर्लिन के नाम से यहां पर उत्पादन नहीं हो सकता. यहां अवैध रूप से यह कंपनी चल रही थी.