खुलासा, नए साल पर पार्टी के लिए भारी मात्रा में नशे का सामान पहुंचा रांची

नकली दवा
नकली दवा फैक्ट्री

रांची : नए साल के जश्न को मनाने के लिए रांची में नशे की बड़ी खेप पंजाब, उत्तर प्रदेश, हरियाणा से पहुंच गई है. यह नशे का सामान रांची के अलग-अलग विभिन्न इलाकों में खपाने की पूरी तैयारी है.

यह खुलासा कुछ दिन पहले गिरफ्तार किए गए सुखदेव नगर थाना क्षेत्र के आईटीआई बस स्टैंड से नशे के कारोबार ने की है. आरोपी के पास से पेंटाजोमिन इंजेक्शन, कॉरेक्स समेत दूसरी नशीली दवाएं भी बरामद हुई थी.
वहीं पुलिस इस पूरे मामले पर चौकस है औऱ जगह जगह छापेमारी अभियान चलाया जा रहा है.

पुलिस का मामना है यूपी के आगरा से भारी मात्रा में यहां नशीली दवाओं की खेप लाई जाती है. इस कारोबार से जुड़े लोगों का नेटवर्क एक राज्य से दूसरे राज्य में है. जहां नशीली दवाईयां स्टॉक की जाती हैं.

प्रतिबंध के बावजूद ये लोग प्रतिबंधित दवाओं का स्टॉक जमा करने में सफल होते हैं. जिसको अलग अलग शहरों में भेजा जाता है.

टैबलेट में नाइट्रोजन-10, स्पास्मो प्रॉक्सिीवान, मार्फिन और ट्राइका टैबलेट का इस्तेमाल नशे के लिए करते हैं. कफ सीरप में कॉरेक्स, कोडीस्टार, आरयू-टफ, लीरिक्स व बायोरेक्स कफ सीरप नशे के लिए उपयोग किया जाता है.

नशीली दवाईयों के कारोबार की सूचना टीमें अलग-अलग इलाकों में छापेमारी कर रही है. सुखदेव नगर थाने क्षेत्र में एक महीना पहले भी छापेमारी में सुखदेव नगर थाना क्षेत्र से दो लोगों को गिरफ्तार किया गया था.

इसके अलावा हटिया, रातू, नगड़ी, नामकुम, चुटिया से भी बड़ी मात्रा में नशीली दवाएं और इससे जुड़े कारोबारी गिरफ्तार हो चुके हैं. पुलिस के लिए नशे का यह कारोबार किसी चुनौती से कम नहीं है.

Advertisement