पीजीआई हेल्थ यूनिवर्सिटी में हुई ऑल इंडिया प्रिवेंटिव एंड सोशल मेडिसन क्वीज

रोहतक

विश्व स्वास्थ्य दिवस के मौके पर पंडित भगवत दयाल शर्मा स्वास्थ्य विज्ञान विश्वविद्यालय में कम्युनिटी मेडिसन विभाग द्वारा मधुमेह विषय पर ऑल इंडिया प्रिवेंटिव एंड सोशल मेडिसन राष्ट्रीय क्वीज प्रतियोगिता आयोजित की गई, जिसमें पीजीआईएमएस के करीब तीन सौ छात्रों ने हिस्सा लिया। यह क्वीज राष्ट्रीय स्तर पर एक साथ दो सौ मेडिकल कॉलेजों मे आयोजित की गई। क्वीज के कोर्डिनेटर डॉ. रमेश वर्मा के मुताबिक, महिमा, नेहा और सुंगधि की टीम ने प्रथम स्थान हासिल किया। संस्थान की ओर से जागरुकता रैली भी निकाली गई, जिसमें चिकित्सकों एवं मेडिकल विद्यार्थियों ने बढ़-चढ़ कर हिस्सा लिया।

हेल्थ यूनिवर्सिटी के कुलपति डॉ. ओ.पी.कालरा ने कहा कि क्वीज एक ओर्थोडोक्स टिचिंज से हटकर एक अनोखा प्रयोग है, जिसमें न केवल भाग लेने वाले बल्कि सुनने वाले का भी ज्ञानवर्धन होता है। संस्थान मे इस क्वीज प्रतियोगिता के लिए कुलपति ने डॉ. प्रदीप खन्ना एवं उनकी टीम को सराहा। कुलसचिव डॉ. एच.के.अग्रवाल ने कहा कि मधुमेह एक महामारी का रुप लेती जा रही है और शरीर के लगभग सभी अंगों को यह प्रभावित करती है। निदेशक डॉ. राकेश गुप्ता ने प्रतियोगिता में भाग लेने वाले हर विद्यार्थी को विजेता की संज्ञा दी। डॉ. के.बी.गुप्ता ने आश्वासन दिया कि इस तरह की प्रतियोगिओं का आयोजन संस्थान में समय-समय पर किया जाता रहेगा।

विजेता टीम को कुलपति डॉ. ओ.पी.कालरा, कुलसचिव डॉ. एच.के.अग्रवाल, निदेशक डॉ. राकेश गुप्ता, डीन डॉ.के.बी.गुप्ता, विभागाध्यक्ष डॉ. प्रदीप खन्ना, डॉ. महाबीर एवं प्राचार्य विद्या देशवाल ने विजेता टीम को मेडल पहनाकर सम्मानित किया। क्वीज का संचालन डॉ. वरुण अरोड़ा एवं डॉ. विनोद कुमार ने किया। डॉ. रवि रोहिल्ला, डॉ. प्रज्ञा, डॉ. जेपी, डॉ. अनुज, डॉ.ब्रिजेश, डॉ. रोहित समेत मेडिकल विद्यार्थियों की अच्छी-खासी भीड़ रही।