अधोमानक दवाओं की आपूर्ति करने वाले छह कंपनियों पर मामला दर्ज

दवाओं
दवा

बाराबंकी। शहर में घटिया दवाओं की आपूर्ति मामले में 6 दवा कंपनियों पर कार्रवाई की गई है। जांच के दौरान दवाएं अधोमानक पाई गई थी। इसके बाद फार्म के खिलाफ कोर्ट में वाद दाखिल किया गया है। इस कार्रवाई से दवा सप्लाई करने वाले फार्म में हड़कंप मच गया है।

औषधि निरीक्षक सीमा सिंह ने कहा कि इस पर इन दवाओं की आपूर्ति करने वाली फर्मों के खिलाफ सीजेएम कोर्ट में वाद दायर कर दिया गया है।

बता दें कि शहर के आभा मेडिकल स्टोर से लिया गया डेक्सामेथासोन टैबलेट का सैंपल जांच में अधोमानक पाया गया है। इस दवा की आपूर्ति उज्जैन स्थित दानिश हेल्थ केयर फार्मा द्वारा की जाती है। वहीं रुड़की उत्तराखंड स्थित ओमेगा बायोटेक द्वारा सरकारी अस्पतालों को आपूर्ति की गई सिजेक्जाइम टैबलेट जांच में अधोमानक पाई गई है।

वर्ष 2018 में इसका नमूना भरकर लखनऊ स्थित प्रयोगशाला भेजा गया था। इस दवा का नमूना 2018 में स्वास्तिक मेडिकल स्टोर फतेहपुर से भरा गया था। जांच में यह दवा भी औषधि मानकों पर फेल हो गई। इसके अलावा हिमाचल प्रदेश स्थित टोरक फार्मा द्वारा हीमोफोर्ट नामक सीरप की आपूर्ति की जाती है। वर्ष 2019 में इसका नमूना हैदरगढ़ स्थित शक्ति मेडिकल स्टोर से भरा गया था।

तत्कालीन औषधि निरीक्षक सुमित वर्मा ने सभी दवाओं के नमूने भरकर जांच के लिए राजकीय प्रयोगशाला लखनऊ भेजे थे। जांच में ये सभी दवाएं अधोमानक पाई गई हैं।

Advertisement