नोटिस के बाद भी नहीं चुका पाई किस्त, दवा कंपनी एमजी कैप्सूल का भूमि आवंटन रद्द

नोएडा प्राधिकरण
कंपनी का भूमि आवंटन रद्द

ग्रेटर नोएडा : ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने आयुर्वेदिक मेडिसिन बनाने वाली कंपनी एमजी कैप्सूल को सेक्टर ‍ईकोटेक वन एक्सटेंशन- वन में आवंटित प्लॉट (संख्या-08) का आवंटन निरस्त कर दिया है।

ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के अधिकारियों ने बताया कि आयुर्वेदिक उत्पाद बनाने वाली कंपनी एमजी कैप्सूल प्राइवेट लिमिटेड कंपनी ने ग्रेटर नोएडा में प्लॉट के लिए आवेदन किया था। प्राधिकरण ने कंपनी को जनवरी 2019 में सेक्टर ईकोटेक वन एक्सटेंशन वन में (प्लॉट संख्या -08) 30807 वर्ग मीटर जमीन आवंटित किया।

अधिकारियों ने बताया कि कंपनी पर प्लॉट आवंटन के प्रीमियम और लीज डीड विलंब शुल्क के रूप में करीब 13 करोड़ रुपये का बकाया था और प्राधिकरण की तरफ से कई बार नोटिस जारी करने के बावजूद कंपनी कोई जवाब नहीं दे रही थी, जिसके बाद प्राधिकरण ने यह कार्रवाई की है।

उन्होंने बताया कि प्राधिकरण ने कंपनी को लीजडीड कराने के लिए चेकलिस्ट भी जारी कर दी और उसके बाद कंपनी की तरफ से समय पर प्रीमियम का भुगतान नहीं किया गया, जिस पर प्राधिकरण ने नोटिस जारी किया।

अधिकारियों ने बताया कि इसके बावजूद कंपनी ने भुगतान नहीं किया तो प्राधिकरण ने दोबारा नोटिस जारी कर बकाया भुगतान को जमा करने के लिए 15 दिन का समय और दिया ।

कंपनी ने इस पर सिर्फ 1.50 करोड़ रुपये जमा कराते हुए शेष धनराशि दो से तीन माह में जमा करने का समय मांगा, जिस पर प्राधिकरण ने बकाया प्रीमियम धनराशि को तीन किस्तों में भुगतान की अनुमति दे दी, लेकिन कंपनी पहली किस्त का ही पूरा भुगतान नहीं कर सकी।

Advertisement