SOG ने कफ सिरप की 3500 बोतल के साथ 4 को धरदबोचा

गुजरात में शराब बंदी है और गुजरात पुलिस ने शराब ओर ड्रग्स माफिया के खिलाफ बहोत सख्त रवैया अपनाया है.. जिसके चलते नशें के आदी अपने नशे की तलब को पूरा करने के लिए नये नये तरीके अपनाने लगे हे.. शराब और ड्रग्स के अवेज में सस्ते नशें के लिए कफ सिरप के सेवन की ओर बढ़ रहे हैं …

SOG को सुचना मिली थी कि अहमदाबाद के जुहापुरा स्थित लवली पाकॅ सोसायटी में नशे के लिए कफ सिरप का कारोबार हो रहा है. इस धंधे पर नकेल कसने SOG ने उपरोक्त स्थान पर छापेमारी की ओर वहां से 3500 बोतल कफ सिरप के साथ 4 लोगों को धरदबोचा. चारों आरोपी.(१) मोहम्मद वकार काजी -शाह आलम अहमदाबाद (२) मोहसिन महेबुब रंगरेज- दानीलिमडा अहमदाबाद (३) अदनान महोम्मद हनीफ शेख- दानीलिमडा अहमदाबाद (४) अरबाज युसुफ शेख – तेलाव तहसील सांणद अहमदाबाद सामिल है..

आरोपी मोहम्मद वकार काजी V K Pharma नाम से दवाई कारोबार बकायदा लाइसेंस ले रखा है जोकि शाह आलम अहमदाबाद के पते पर हे.. ड्ग ऐन्ड कॉस्मेटिक ऐक्ट अनुसार जिस स्थान के लिए लाइसेंस बनवाया है उसी स्थान पर दवाई कारोबार कर सकते है.. मगर आरोपी ड्रग लायसेंस का दुरूपयोग करते हुए जुहापुरा स्थित उक्त स्थान पर गैर क़ानूनी तौर पर से कफ सिरप का कारोबार करता था.

पुलिस तहकीकात में सामने आया की आरोपी मोहसिन रंगरेज अतित में दानीलिमडा इलाके में साझेदारी में मेडिकल स्टोर चलाता था. उस दुकान का लाइसेंस भी किसी वजह से निरस्त कर दिया गया था. और आरोपी कफ सिरप को दुगने दाम पर बेचते थे. पता चला है कि शराब ओर ड्रग्स की मुकाबले कफ सिरप का नशा सस्ता है और मिलना भी नशे के दूसरे सामान के मुकाबले कम मुश्किल ..

आरोपियों के पास से Rs 6.30 लाख कीमत की कफ सिरप ओर दूसरा सामान मिला के Rs 7 लाख का सामना जब्त किया गया है

Advertisement