हरियाणा में निकोटेक्स च्विंगम पर बैन समझ से परे

अंबाला
निकोटिन युक्त चिंगत को हरियाणा सरकार ने जहर का दर्जा देकर बिक्री पर रोक लगाई हुई है जबकि देश के अन्य राज्यों में कहीं भी बैन नहीं है। हाल ही में कर्नाटक के बेंगलूरु शहर में दवा विक्रेताओं द्वारा खुलेआम बेचने के लिए निकोटेक्स च्विंगम 2 मि.ग्रा, 4 मि.ग्रा. रखे देखे तो जिज्ञासा बनी की क्या निकोटिन से हरियाणा को ही भय है बाकी कहीं भी नहीं। कर्नाटक के राज्य औषधि नियंत्रक डॉ. भंडारी ने स्पष्ट किया कि उनके राज्य में इसके क्रय-विक्रय का रिकॉर्ड रखना जरूरी है, परंतु इस उत्पाद पर प्रतिबंध नहीं है। इस कड़ी में कई राज्य के औषधि नियंत्रकों से बैन के बारे में पूछा तो उन्होंने अनभिज्ञता जताते हुए कहा कि बैन पूरे भारत में हो तो ठीक है एक राज्य में बैन से उपलब्धता पर संदेह बना रहता है। ग्राहक कहीं न कहीं से उत्पाद उपयोग के लिए ले ही लेता है। ऐसे में हरियाणा में बैन का औचित्य समझ से परे लगता है।