छापेमारी के दौरान सात लाख फार्मा ओपीओइड जब्त किये

नशीली दवाइयों की पकड़ी गई खेप
नशीली दवाइयों की पकड़ी गई खेप

चंडीगढ़ : उत्तर प्रदेश के सहारनपुर जिले में एक अवैध गोदाम में छापेमारी में एक मुख्य आपूर्तिकर्ता की गिरफ्तारी के साथ ही पंजाब पुलिस ने एक अंतर-राज्यीय ‘फार्मास्युटिकल ड्रग कार्टेल’ का भंडाफोड़ करने का दावा किया।

पुलिस ने छापेमारी के दौरान सात लाख से अधिक ‘फार्मा ओपीओइड’ जब्त करने का भी दावा किया।
पुलिस ने बताया कि मुख्य आपूर्तिकर्ता की पहचान सहारनपुर में आईटीसी के निकट खलासी लाइन निवासी आशीष विश्कर्मा के रूप में हुई है।

पुलिस ने बताया कि आरोपी पिछले पांच साल से पंजाब के फतेहगढ़ साहिब, एसएएस नगर, एसबीएस नगर, रूपनगर, पटियाला और लुधियाना सहित कुछ जिलों में अवैध रूप से ओपिओइड (नशे वाली) दवा की आपूर्ति कर रहा था।

रोपड़ क्षेत्र के पुलिस उप महानिरीक्षक (डीआईजी) गुरप्रीत सिंह भुल्लर ने कहा कि पुलिस ने लोमोटिल की 4.98 लाख गोलियां, अल्प्राजोलम की 97,200 गोलियां, प्रॉक्सीवॉन कैप्सूल की 75,840 गोलियां, एविल की 21,600 शीशियां, ब्यूप्रेनोर्फिन के 16,725 इंजेक्शन और ट्रामाडोल की 550 गोलियां बरामद की हैं।

उन्होंने कहा कि 14 जुलाई को चमकौर साहिब निवासी सुखविंदर सिंह उर्फ काला और हरजसप्रीत सिंह उर्फ जस्सा नाम के दो लोगों के पास से बुप्रेनोर्फिन के 175 इंजेक्शन और एविल की 175 शीशियों की बरामदगी की जांच के तहत पुलिस दलों ने शुक्रवार को उत्तर प्रदेश पुलिस की मौजूदगी में गोदाम में छापेमारी की।

Advertisement