सावधान रहने की जरूरत, एक बार फिर बढ़ने लगे स्वाइन फ्लू के मामलें

swine flu

नई दिल्ली : देश में आज भी कोविड के मामले बढ़ते जा रहे हैं। इसी बीच नई दिल्ली में स्वाइन फ्लू के मामलों में भी बढ़ोतरी देखी जा रही है। अस्पताल में स्वाइन फ्लू में मरीज ज्यादा भर्ती हो रहे हैं।

बता दें कि स्वाइन फ्लू एक ह्यूमन रिस्पेरेटरी इंफेक्शन है जो, सूअरों में शुरू हुए इन्फ्लूएंजा स्ट्रेन के कारण होता है। इसे पहली बार 1919 में एच1एन1 वायरस स्ट्रेन के कारण महामारी के रूप में पहचाना गया था। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) द्वारा इसे 2009 में महामारी घोषित किया गया था।डब्ल्यूएचओ ने अगस्त 2010 में महामारी को खत्म घोषित कर दिया था।

कोरोना और स्वाइन फ्लू दोनों के लक्षण एक जैसे दिखते हैं क्योंकि दोनों सांस से संबंधित बिमारी हैं। सामान्य लक्षणों और लक्षणों में बुखार, खांसी, सांस की तकलीफ, थकान, गले में खराश, बहती या भरी हुई नाक, शरीर में दर्द, सिरदर्द, उल्टी, दस्त शामिल हैं।

दिल्ली के एक अस्पताल के डॉक्टर का कहना है कि इधर बीच हम स्वाइन फ्लू की अधिक मामलों को देख रहे हैं। ऐसे में इन मरीजों को अस्पताल में भर्ती करने की जरूरत पड़ रही है। गंभीर स्थिती में कुछ रोगियों को अतिरिक्त कॉर्पोरियल मेम्ब्रेन ऑक्सीजनेशन (ईसीएमओ) की आवश्यकता हो सकती है।

Advertisement